1- चौरी चौरा कांड: विद्रोह के माहौल में भी देशभक्तों ने दिखाई मानवता, साथियों को मारने वाले दारोगा की गर्भवती पत्नी को जाने के लिए दिया था सुरक्षित मार्ग

स्वाधीनता आंदोलन में पूर्वांचल के योगदान की चर्चा चौरी चौरा जनाक्रोश की चर्चा के बिना पूरी हो ही नहीं सकती। चार फरवरी 2022 में हुए इस जनविद्रोह ने न केवल समूचे राष्ट्रीय आंदोलन की दिशा बदल दी बल्कि अंग्रेजी हुकूमत को भी हिलाकर रख दिया। यही वह घटना थी, जिसकी जानकारी मिलने के बाद महात्मा गांधी ने असहयोग आंदोलन स्थगित कर दिया। उधर घटना की पूरी हकीकत जाने बिना सत्र न्यायालय से 172 लोगों को फांसी की सजा सुना दी गई। बाबा राघवदास और महामना मदन मोहन मालवीय के प्रयास से इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 153 लोग निर्दोष करार दिया पर 19 लोगों को फांसी से नहीं बचाया जा सका। जागरण स्वाधीनता की 75वीं वर्षगांठ पर इस युगांतरकारी घटना को एक बार फिर से याद दिलाने की कोशिश कर रहा है। विद्रोह में बलिदान हो जाने वाले देशभक्तों को श्रद्धांजलि दे रहा है।

2- Independence Day 2022: पढ़िए- देवरिया के क्रांतिकारी दंपती की कहानी, अंग्रेज जज के सामने नई नवेली दुल्हन ने नहीं मांगी थी माफी

स्वाधीनता की लड़ाई में देवरिया के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी दंपती दो वर्ष तक जेल की सलाखों में कैद रहे। वह अंग्रेज पुलिस के डराने व धमकाने से डरे नहीं, बल्कि साहस के साथ उनका सामना किया। हम बात कर रहे हैं जनपद के एकलौते जीवित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी दंपती सलेमपुर के मधवापुर गांव के रहने वाले 99 वर्षीय श्रीराम पांडेय व 97 वर्षीया उनकी पत्नी प्रभावती पांडेय की।

3- Kushinagar में अलग-अलग सड़क हादसों में दो महिलाओं की मौत, दो घायल

कुशीनगर जिले में दो अलग- अलग स्थानों पर शनिवार को हुई मार्ग दुर्घटना में दो महिलाओं की मौत हो गई, जबकि दो लोग घायल हो गए हैं। घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिसमें एक की हालत गंभीर बताई जा रही है।

4- गोरखपुर में CBI के DSP को ट्रक से कुचलकर मारने की कोशिश, पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

छुट्टी पर घर आए सीबीआइ (केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो) के डिप्टी एसपी (पुलिस उपाधीक्षक) को हादसे में जान से मारने की कोशिश किए जाने का मामला सामने आया है। तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी गाड़ी में दो बार पीछे से टक्कर मारी, लेकिन चालक के सूझबूझ से हादसा टल गया। पीछा कर रहा ट्रक सड़क किनारे रखे गिट्टी पर चढ़कर पलट गया जिसमें दबे चालक की मौत हो गई। गुलरिहा थाना पुलिस ने इस मामले में हत्या की कोशिश किए जाने का मुकदमा दर्ज किया है। एसपी नार्थ मामले की जांच कर रहे हैं। घटना की जानकारी होते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

5- Kushinagar में घर पर फहराया पाकिस्तान का झंडा, सूचना मिलते ही सक्रिय हुई पुलिस, एक आरोपित को किया गिरफ्तार

पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। घर- घर तिरंगा लहराने का अभियान चल रहा है, लेकिन कुशीनगर जिले के तरयासुजान थाना के बेदूपार मुस्तिकल गांव में एक मुस्लिम परिवार के घर पर पाकिस्तान के फहराए गए झंडे ने माहौल गर्म कर दिया। मामला आगे बढ़ता, इससे पहले पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए झंडा उतरवाकर कब्जे में ले लिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया और दूसरे नाबालिग आरोपित को चेतावनी देकर छोड़ दिया है। मामले को गंभीर मानते हुए एसपी ने जांच शुरू करा दी है।

6- UP Board ने घोषित की 10वीं, 12वीं के इंप्रूवमेंट-कंपार्टमेंट परीक्षा की तिथि, गोरखपुर के दो केंद्रों पर होगा एग्जाम

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (UP Board) ने वर्ष 2022 की हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की इंप्रूवमेंट/कंपार्टमेंट परीक्षा की तिथि घोषित कर दी है। परीक्षा जिले के दो केंद्रों पर 27 अगस्त को होगी। हाईस्कूल की परीक्षा का समय सुबह आठ से 11.15 बजे तथा इंटरमीडिएट की परीक्षा का समय दोपहर दो बजे से शाम 5.15 बजे तक होगी।

7- इजरायल के जेब्रा को गोरक्षनगरी में लाने के लिए भेजा गया दोस्ती का पैगाम, विशेषज्ञों की टीम ने पढ़ा था उसका स्वभाव

इजरायल से लाए गए जेब्रा की कहानी कुछ ऐसी है कि उसे आठ माह बाद भी मानव का साथ पसंद नहीं है। उसे इजरायल से लखनऊ तो ले आया गया, लेकिन वहां से गोरखपुर लाना आसान नहीं है। दो आइएफएस (इंडियन फारेस्ट सर्विस) समेत विशेषज्ञों की छह सदस्यीय की टीम ने लखनऊ में जेब्रा के स्वभाव का अध्ययन किया तो पता चला कि शर्मीले स्वभाव का यह वन्यजीव इंसान को 100 मीटर दूर देखकर ही खुद असहज महसूस कर रहा है। ऐसे में वह चिड़ियाघर के बाड़े में कैसे रहेगा, जहां रोजाना हजारों की संख्या में 30 मीटर की दूरी से खड़े होकर दर्शक उसे देखेंगे। टीम ने सर्वे के बाद निर्णय लिया कि अब जेब्रा से दोस्ती बढ़ाकर ही उसे गोरखपुर चिड़ियाघर लाया जा सकता है। इसे लेकर गोरखपुर चिड़ियाघर से एक जू कीपर को भेजा गया है।

8- Railway Station के काउंटर पर लाइन में लगने की जरूरत नहीं, अब यूटीएस एप से करें टिकट की बुकिंग, मिलेगा बोनस

यात्रियों को रेलवे स्टेशन के काउंटरों पर लाइन लगाने की जरूरत नहीं है। काउंटरों के साथ मोबाइल यूटीएस (अनरिजर्व टिकट सिस्टम) एप पर भी जनरल टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है। मोबाइल यूटीएस एप से जनरल के अलावा प्लेटफार्म टिकट भी बुक हो जा रहे हैं। ऊपर से आर वालेट (डिजिटल बटुआ) से पेमेंट करने पर पांच प्रतिशत का बोनस भी मिल जा रहा। यह बोनस 24 अगस्त 2022 तक मिलता रहेगा। जानकारों का कहना है कि रेलवे बोर्ड बोनस को और एक साल के लिए बढ़ाने की योजना बना रहा है।

Edited By: Pragati Chand