गोरखपुर, जागरण संवाददाता। जनता की नजर में गोरखपुर जोन के 12 थानेदारों की कार्यप्रणाली ठीक नहीं है। जुलाई व अगस्त माह में हुए पब्लिक अप्रूवल सिस्टम में इनकी रैकिंग अपने जिले के अंतिम पांच थानेदारों में रही है। एडीजी अखिल कुमार ने संबंधित जिले के कप्तान को पत्र लिखकर संबंधित थानेदार को चेतावनी देने और अगले माह के सर्वे में स्थिति न सुधरने पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

लगातार दो माह तक जिले के अंतिम पांच में रहा स्थान

जुलाई और अगस्त माह में लगातार अंतिम पांच में रहने वाले थानेदारों में गोरखपुर के गुलरिहा थानेदार मनोज कुमार पांडेय, देवरिया कोतवाली थाना प्रभारी मृत्युंजय सिंह, मडुआडीह के थानेदार डा. महेंद्र कुमार, कुशीनगर जिले के विशुनपुरा थानेदार महेंद्र प्रजापति, महराजगंज के फरेंदा के थानेदार संजय कुमार मिश्रा, घुघुली थानेदार देवेंद्र कुमार सिंह, बस्ती के दुबौलिया थानेदार विनोद कुमार, सिद्धार्थनगर जिले के खेसरहा थानेदार भानु प्रताप सिंह, गोंडा के खरगपुर थानेदार कुबेर तिवारी, करनैलगंज थानेदार सुधीर कुमार सिंह, बलरामपुर के पचपेड़वा थानेदार आलोक राव और श्रावस्ती के मल्हीपुर के थानेदार हर्षवर्धन सिंह शामिल हैं।

तहरीर के आधार पर दर्ज हो मुकदमा

थानेदार व चौकी प्रभारी के तहरीर बदलवाने की लगातार मिल रही शिकायत पर एडीजी जोन अखिल कुमार ने निर्देश दिया है कि पुलिसकर्मी ऐसा न करें।पीडि़त जो तहरीर दे उसके आधार पर मुकदमा दर्ज करें।इसके अलावा बिना सीओ, एएसपी और एसएसपी के निर्देश पर धारा घटाए या बढ़ाए नहीं।

अपहरण व दुष्कर्म का आरोपित गिरफ्तार

किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म करने के आरोपित को सहजनवां थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया। प्रभारी निरीक्षक थाना सहजनवां मानवेंद्र पाठक ने बताया कि मटियारी गांव निवासी आकाश चौरसियों ने किशोरी का अपहरण कर लिया था। मुकदमा दर्ज कर उसकी तलाश चल रही थी। आरोपित को गिरफ्तार कर किशोरी को मुक्त कराया गया।बयान के आधार पर अपहरण के मुकदमें में दुष्कर्म की धारा बढ़ाई गयी है।

कूटरचित दस्तावेज पर जमीन हथियाने का मुकदमा

कूटरचित दस्तावेज के जरिए महिला भाजपा नेता की जमीन पर कब्जा करने का प्रयास करने वाले चार आरोपितों पर पिपराइच थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। शाहपुर थानाक्षेत्र के असुरन पोखरा निवासी भाजपा नेता अमिता गुप्ता ने तहरीर में लिखा है कि जंगल धूसड़ निवासी शिवराज से उन्होंने 3379 वर्गफीट भूमि बैनामा लिया है, जिस पर कब्जा दाखिल हो गया है। भूमि विक्रेता शिवराज अपने साथी विकास, रुदल गौड़ और कुमार के साथ मिलकर कूटरचित दस्तावेज तैयार कर भूमि पर कब्जा करने का प्रयास कर रहे हैं।थानाध्यक्ष पिपराइच सूरज सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है।

Edited By: Pradeep Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट