गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर जिले में दहेज के लिए पत्नी को प्रताड़ित करने वाले पति ने मांग पूरी न होने पर फोन पर तीन तलाक बोल दिया। पीड़ित महिला की शिकायत पर गोरखनाथ थाना पुलिस ने आरोपित पति, उसकी मां, भाइयों, बहन समेत 10 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

ये है मामला: हरपुर-बुदहट के मियां पकड़ी गांव की रहने वाली शाहिना खातून की शादी दो दिसंबर 2018 को गोरखनाथ के जटेपुर उत्तरी निवासी मोहम्मद असलम से हुई थी। गोरखनाथ पुलिस को दी तहरीर में शाहिना ने लिखा है कि शादी के तीन माह बाद ही पति, सास, ननद, भसुर उनकी पत्नियां व देवर दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे। सभी लोग पिता से एक लाख रुपये मांगकर लाने का दबाव बनाते थे। पिता की आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से उनकी मांग पूरी नहीं सकी।

बेटी पैदा होने पर और प्रताड़ित करने लगे ससुराल पक्ष के लोग: शादी के एक साल बाद बेटी पैदा होने पर ससुराल वालों की प्रताड़ना और बढ़ गई। पिता व रिश्तेदार के समझाने पर वह यह सोचकर चुप रही कि ससुराल वाले कुछ दिन बाद सुधर जाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 21 अप्रैल को ससुराल के लोगों ने कमरे में बंद कर बेरहमी से पीटने के साथ ही केरोसीन डालकर जलाने का प्रयास किया। शोर सुनकर पहुंचे पड़ोसियों ने जान बचाई। जिसके बाद वह बेटी को लेकर मायके चली आई।

फोन पर ही बोल दिया तीन तलाक: 17 अप्रैल की दोपहर में उसके पिता के मोबाइल पर असलम ने फोन कर बात कराने को कहा। पिता के फोन देने पर उसने बात की तो गाली देने लगा। बातचीत के दौरान फोन पर ही तीन तलाक बोल दिया।

एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने बताया कि शाहिना खातून की तहरीर पर पति समेत 10 लोगों पर दहेज उत्पीड़न, मारपीट व धमकी देने व मुस्मिल महिला विवाह सुरक्षा अधिनियम 2019 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। साक्ष्य के आधार पर कार्रवाई होगी।

Edited By: Pragati Chand