गोरखपुर, जेएनएन। लखनऊ तक की यात्रा करने वाले लोगों के लिए राहत भरी खबर है। 11 जून से 02531-02532 गोरखपुर- लखनऊ-गोरखपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस का संचालन शुरू हो गया। इसके अलावा 05069 गोरखपुर-ऐशबाग स्पेशल 14 जून से और 05104- 05103 मंडुवाडीह-गोरखपुर- मंडुआडीह इंटरसिटी एक्सप्रेस भी 15 जून से चलने लगेगी। 05009 गोरखपुर- मैलानी स्पेशल एक्सप्रेस का संचालन शुरू हो चुका है। रेलवे प्रशासन ने यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए अप्रैल और मई में निरस्त 30 स्पेशल ट्रेनों को संचालित करने की हरी झंडी दे दी है। जल्द ही शेष स्पेशल एक्सप्रेस और पैसेंजर (सवारी गाडिय़ों) का संचालन भी शुरू हो जाएगा। यह सभी ट्रेनें पूर्व निर्धारित समय, ठहराव और मार्ग के आधार पर ही चलाई जाएंगी।

रेलवे ने लोगों को समझाया, कैसे पार करें समपार

पूर्वोत्तर रेलवे में अंतरराष्ट्रीय समपार जागरूकता दिवस मनाया गया। मुख्य संरक्षा अधिकारी अनिल कुमार मिश्र के मार्गदर्शन में मुख्यालय गोरखपुर सहित लखनऊ, वाराणसी और इज्जतनगर मंडल में विविध कार्यक्रम आयोजित किए गए। समपार फाटकों व आसपास के गांवों में लोगों को विशेषकर चालकों को समपार पार करने में बरती जाने वाली सावधानियों के बारे में समझाया गया।

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार उप मुख्य संरक्षा अधिकारी अभ्युदय, विल्सन लुगुन और सहायक परिचालन प्रबंधक संरक्षा रमेश पांडेय के नेतृत्व में पूर्वोत्तर रेलवे के विभिन्न खंडों में 2000 पंफलेट बांटे गए। 250 डायरी का भी वितरण हुआ। लगभग 1300 लोगों की काउंसिलिंग की गई। स्टेशनों पर घोषणा कर समपार फाटकों पर सावधानी बरतने के लिए यात्रियों को सतर्क किया गया। 25 लाख

मोबाइल उपभोक्ताओं को एसएमएस भेजा गया। गोरखपुर कैंट-कुसम्ही स्टेशन के बीच समपार संख्या 157 ए तथा कुसम्ही-सरदारनगर स्टेशन के बीच समपार संख्या 152 सी पर जन जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक किया गया।

रेलवे स्टेशन के सभी 1751 फ्रंट लाइन कर्मियों को लग गया टीका

गोरखपुर रेलवे स्टेशन के सभी 1751 फ्रंट लाइन कर्मचारियों को टीका लग गया है। अब वही कर्मचारी बच गए हैं जो संक्रमित हो गए थे या अन्य बीमारी से पीडि़त थे।

स्टेशन डायरेक्टर आशुतोष गुप्ता के अनुसार ललित नारायण मिश्र केंद्रीय रेलवे अस्पताल और जिला स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से रेलवे स्टेशन पर 11 दिन तक टीकाकरण अभियान चलाया गया। अभियान के तहत डीजल लाबी में कैंप लगाकर रजिस्ट्रेशन नहीं कराने वाले 18 से 44 वर्ष तक के रेलकर्मियों को भी टीका लगाया गया। मौके पर पहुंचे रेलकर्मियों का पंजीकरण कराकर टीका लगाया गया, जिसमें लोको पायलट, गार्ड, टिकट चेकिंग स्टाफ, सुपरवाइजर्स और सफाईकर्मी आदि शामिल थे। दूसरी डोज के लिए भी रेलवे स्टेशन पर कैंप लगाया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप