गोरखपुर, जेएनएन। लॉकडाउन के दौरान घर पर अपने परिवार के साथ समय बिता रहे सफाईकर्मियों को रेलवे बेफिक्र रखेगा। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने स्टेशनों, ट्रेनों और विभागों में कार्य करने वाले रेलकर्मियों की तरह आउटसोर्स कर्मचारियों को भी ऑन ड्यूटी माना है। उन्हें भी मानदेय देने का निर्णय लिया है। 

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार भारतीय रेलवे स्तर पर आउटसोर्स के कुल 50 हजार कर्मचारी इस नई व्यवस्था से लाभान्वित होंगे। अन्य रेलवे की तरह पूर्वोत्तर रेलवे में भी आनबोर्ड हाउसकीपिंग सेवा, स्टेशनों की सफाई, पेंट्रीकार तथा विभागों में आउटसोर्स कर्मचारी रखे गए हैं। जो मैनेजर बेसिस पर आधारित हैं। रास्ते में कोचों की सफाई करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे के करीब 50 ट्रेनों में आनबोर्ड हाउसकिपिंग सिस्टम लागू है

इसके अलावा गोरखपुर जंक्शन सहित समस्त प्रमुख स्टेशनों और विभागों में बड़ी संख्या में सफाईकर्मी तैनात किए गए हैं। दरअसल, लॉकडाउन के चलते सभी ट्रेनें निरस्त हैं। स्टेशन भी लॉक हैं। ऐसे में समस्त प्राइवेट सफाईकर्मी घर पर हैं।

14 अप्रैल तक यात्री ट्रेन सेवाएं बंद

उधर, लॉकडाउन के चलते अब 14 अप्रैल तक यात्री ट्रेन सेवाएं बंद रहेंगी। इस दौरान भारतीय रेलवे स्तर पर एक भी एक्सप्रेस, पैसेंजर, डेमू या मेमू ट्रेन नहीं चलाई जाएंगी। रेलवे बोर्ड ने जनरल और आरक्षित टिकटों की बुकिंग पर भी पाबंदी लगा दी है। आनलाइन बुकिंग भी 14 अप्रैल के बाद ही हो सकेंगे। रेलवे बोर्ड ने समस्त जोनल रेलवे को दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। ट्रेन सेवाएं 31 मार्च को रात 12.00 बजे बंद थीं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस