गोरखपुर, जेएनएन। Coronavirus Lockdown Day 3 : संपूर्ण लॉकडाउन के समय लोगों को घर बैठे जरूरी सामानों की आपूर्ति को लेकर प्रशासन की ओर से किया गया दावा दूसरे दिन भी फेल नजर आया। सुबह 10 बजे तक शहर के अधिकतर मोहल्लों में फल, सब्जी या दूध की होम डिलीवरी नहीं हो पाई थी। लोगों ने कंट्रोल रूम में भी फोन किया लेकिन उन्हें रिस्पांस नहीं मिला। रोजाना घर पर दूध पहुंचाने वाले दूधिये ही सहारा बने।

मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के पास वसंत विहार कॉलोनी निवासी आशुतोष का कहना है कि प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराए गए नंबरों पर फोन किया लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला। घर पर जरूरी सामान चाहिए, पर कब तक मिलेगा इसकी जानकारी नहीं है। गंगानगर बसारतपुर निवासी विशाल त्रिपाठी भी मोहल्ले में सब्जी का इंतजार करते रहे लेकिन कोई ठेलेवाला नजर नहीं आया। प्रशासन की ओर से दूध आपूर्ति की जिम्मेदारी पाने वालों से भी कोई रिस्पांस नहीं मिला। असुरन निवासी महेंद्र पटेल ने बताया कि उनके क्षेत्र में भी अभी तक किसी जरूरी सामान की आपूर्ति नहीं हो सकी है। मोहद्दीपुर निवासी लालदेव का कहना है कि लोग प्रशासन की ओर से की गई व्यवस्था की राह देख रहे हैं लेकिन उन्हें सामान उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। दवाओं को लेकर स्थिति भी कुछ ऐसी ही रही। घर पर दवा ना मिलने के कारण अलहदादपुर में लोगों ने पास की दुकान पर जाकर दवा ली। स्वयं से सतर्कता बरते हुए लोगों ने एक मीटर से अधिक की दूरी लाइन में बनाए रखी।

प्रशासन ने अपडेट की लिस्ट

जिला प्रशासन ने पहले दिन मिली असफलता के बाद एक बार फिर दूध आपूर्तिकर्ता, किराना स्टोर की सूची को अपडेट किया। इसे भी रात तक वाट्सएप के माध्यम से सभी तक प्रसारित करने का प्रयास किया गया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सदर गौरव सिंह सोगरवाल के निर्देशन में ई-कॉमर्स कंपनियों का सहयोग लिया गया। किराना वस्तुओं की होम डिलीवरी के लिए एक पोर्टल भी तैयार किया गया है।

पास बनवाने के लिए लगी रही लाइन

महेवा स्थित थोक मंडी में मंडी परिषद से पास बनवाने के लिए ठेले वालों की लाइन लगी रही। पर, पास बनवाने वाले कर्मचारी के ना आने से  लोगों ने नाराजगी भी जताई। मौके पर पहुंचे सिटी मजिस्ट्रेट ने लोगों को समझा कर शांत कराने का प्रयास किया। हल्का बल प्रयोग भी किया गया।

लॉकडाउन के उल्लंघन पर आठ लोग गिरफ्तार

लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में कैंट पुलिस ने सैलून संचालक सहित आठ को गिरफ्तार किया है। सैलून संचालक दुकान खोलकर लोगों का बाल काटते पकड़ा गया। बाकी चाय, पान और गुटखा बेचते हुए गिरफ्तार किए गए हैं। सभी के विरुद्ध निषेधाज्ञा के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। सिंघडिय़ा में लकी हेयर ड्रेसर नाम की दुकान खुली हुई थी और कई लोग बाल कटवाने के लिए दुकान में बैठे थे। पुलिस के पहुंचते ही ग्राहक वहां से चले गए। सैलून संचालक झम्मन शर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके अलावा गोलघर में जलकल बिल्डिंग के पास ठेले पर चाय बेच रहे राणा सिंह और दिनेश सिंह, बेतियाहाता में ठेले पर चाय बेच रहे अतुल कुमार, बेतियाहाता हनुमान मंदिर के पास ठेले पर सब्जी बेच रहे ब्रिजेश साहनी, सिटी माल के पास पान गुटखा बेचते हुए पवन चौधरी और लकी को गिरफ्तार किया गया। शास्त्री चौराहे से ठेले पर चाय-पकौड़ा बेच रहे शंकरदयाल राय को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस