गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर जिले की चौरीचौरा पुलिस को चकमा देकर चोरी की आरोपित एक किशोरी शनिवार की भोर में थाने से फरार हो गई। उसे महिला सिपाही की अभिरक्षा में रखा गया था। किशोरी के भागने की खबर लगते ही चौरी चौरा थाना पुलिस उसकी में जुट गई।फोटो व सीसी कैमरा फुटेज दिखाकर आसपास के लोगों से भी जानकारी जुटाई जा रही है।

यह है पूरा मामला

भाऊपुर गांव के रहने वाले मनीष कुमार अपने मकान में ही कपड़े की दुकान चलाते हैं। शुक्रवार की दोपहर में वह किसी काम से घर में गए इसी दौरान कैश काउंडर में रखे 25 हजार रुपये चोरी हो गए। दुकान में लगे सीसी कैमरे में कैश बाक्स से रुपये निकालते हुए एक लड़की कैद हुई थी। फुटेज की मदद से पहचान कर पुलिस ने चोरी करने की आरोपित किशोरी को हिरासत में लिया था।

सराफा की दुकान से भी हुई थी चोरी

इससे पहले मुंडेरा बाजार कस्बे में प्रेमचंद जायसवाल के सराफा की दुकान से चार लाख रुपये कीमत के गहने चोरी हो गए थे। प्रेमचंद अपने मकान में ही सराफा की दुकान चलाते हैं। दोपहर में बैंक चले गए लौटे तो तिजारी खुली थी। चेक किया तो तिजोरी में रखे चांदी व सोने के गहने गायब थे। किशोरी को हिरासत में लेने के बाद चौरी चौरा थाना पुलिस पूछताछ कर रही थी। संदेह था कि दोनों ही घटना को किशोरी व उसके सहयोगियों ने अंजाम दिया है। उम्मीद थी कि शनिवार को कोई परिणाम मिलेगा लेकिन इससे पहले ही आरोपित फरार हो गई।

व्यापारी को लूटने वालों का नहीं मिला सुराग

चौरी चौरा क्षेत्र में शुक्रवार की शाम व्यापारी अजय कुमार की आंख में मिर्ची पाउडर डालकर 2.50 लाख रुपये लूटने वाले बदमाशों का कोई सुराग नहीं मिला है। सीसी कैमरा फुटेज व सर्विलांस की मदद से क्राइम ब्रांच व चौरी चौरा थाना पुलिस छानबीन कर रही है। इससे पहले 15 सितंबर की रात में सरैया के बाइसी नाला के पास बदमाशों ने मुंडेरा बाजार के रहने वाले व्यापारी की आंख में मिर्ची पाउडर डालकर 1.74 लाख रुपये लूट लिए थे। इस घटना का भी अभी पर्दाफाश नहीं हो सका। इन सबके बीच शनिवार की भोर में पुलिस अभिरक्षा से भागी किशोरी ने चौकसी पर सवाल खड़ा कर दिया है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट