गोरखपुर, जागरण संवाददाता। पुलिसकर्मियों को कुचलने का प्रयास करने वाले छह पशु तस्करों पर गुलरिहा थाना पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज किया है। गिरोह का सरगना चौरी चौरा क्षेत्र का रहने वाला है। दो सदस्य कुशीनगर जिले के रहने वाले हैं। फरार चल रहे तीन तस्करों की तलाश चल रही है।

चौरीचौरा क्षेत्र का रहने वाला है सरगना, कुशीनगर जिले के निवासी हैं दो सदस्य

प्रभारी निरीक्षक थाना गुलरिहा मनोज पांडेय ने बताया कि चौरी चौरा के दुधई गांव का रहने वाला सूरज कुमार पशु तस्करी करने वाले गिरोह का सरगना है। उसी के नेतृत्व में यह गिरोह गोवध जैसे जघन्य अपराध करता है। गैंग के द्वारा आपराधिक कृत्यों पर अंकुश लगाने वाले पुलिस कर्मियों पर हमला करने के साथ ही पुलिस के वाहनों को छतिग्रस्त भी कर दिया जाता है। इनके अमानवीय कृत्य से आम जनमानस में भय व आतंक व्याप्त है।

छह पशु तस्करों काे गुलरिहा पुलिस ने भेजा था जेल, तीन की चल रही तलाश

पशु तस्करों के आतंक का आलम यह है कि समाज का कोई भी व्यक्ति इनके विरुद्ध थाने में शिकायत करने अथवा न्यायालय में गवाही देने की हिम्मत नहीं जुटा पाता है। गिरोह के सदस्य इस्माइल भटहट के बड़हरिया धुसवा टोला, शेख मोहम्मद व रियाजुद्दीन निवासी आराजी चिलबिलवा थाना गुलरिहा, हरेंद्र यादव निवासी बसडीला पांडेय थाना तुर्कपट्टी कुशीनगर और इमाम शेख पुत्र जिलानी शेख निवासी कोइन्दी गोलाई पट्टी थाना तरयासुजान के रहने वाले हैं। तुर्कपट्टी के गुरवलिया निवासी सोनू शेख और मोनू शेख और कुबेरस्थान के सेमरा हरदो निवासी तौरीफ घटना के बाद से ही फरार हैं। तीनों की तलाश चल रही है।

दो सितंबर की रात में हुई थी घटना

पिकअप सवार पशु तस्करों ने दो सितंबर 2022 की रात में गुलरिहा थाना पुलिस की जीप पर पथराव कर दिया था। पकड़ने का प्रयास करने पर जानलेवा कर दिया था। तस्करों को पकड़ने की कोशिश में एसपी नार्थ की गाड़ी डिवाइडर से टकरा गई थी। इस मामले में एसएसआइ गुलरिहा थाना सोनेंद्र सिंह ने 10 अज्ञात पशु तस्करों के विरुद्ध हत्या की कोशिश, तोड़फोड़, सरकारी कार्य में बाधा डालने और सेवन सीएलए के तहत मुकदमा दर्ज कराया था।

Edited By: Pradeep Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट