गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर के सहजनवां क्षेत्र के ग्राम माट की चार युवतियां चोरमा नाले में डूब गईं। इसमें दो सगी बहनों की मौत हो गई। तीसरी युवती की हालत गंभीर है, जबकि चौथी की तलाश गोताखोर कर रहे हैं।

परिजनों ने बताया कि करवा चौथ पर्व पर पूजा के लिए कमल पुष्प लाने के लिए नीलम (22), सरोज (19) पुत्री ओरी चौहान, पार्वती (20) पुत्री परदेसी, पिंकी चौहान (18) पुत्री बेचू चोरमा नाले किनारे पहुंचीं। बीच नाले में कमल पुष्प देखा तो चारों गहरे पानी में चली गईं और डूब गईं।

तलाश में जुटे गोताखोर

ग्रामीणों ने डूबी लड़कियों को ढूंढना शुरू किया। नीलम, सरोज व पार्वती को ग्रामीणों ने निकाला और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया जबकि पिंकी की तलाश जारी है। डाक्टर ने नब्ज टटोलते ही नीलम व सरोज को मृत घोषित कर दिया। उपचार के बाद भी हालत में सुधार न होने पर डाक्टर ने पार्वती को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। सहजनवां थानाध्यक्ष ने बताया कि गोताखोर पिंकी की तलाश में लगे हैं।

कुआनो नदी में नाव पलटी, बड़ा हादसा टला

उधर, कुआनो नदी में नाव पलटने से डूब रहे आधा दर्जन छात्रों को ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद बचा लिया। सभी छात्र नाव में सवार होकर परीक्षा देने जा रहे थे। परिजनों ने बताया कि वीरेंद्र कुमार यादव पुत्र सुभाष यादव ग्राम रुक्कुनपुर, विष्णु देव भारती पुत्र रामानन्द, रामविशाल पुत्र भागवत, विनय कुमार पुत्र रामकुमार, विशाल कुमार पुत्र श्रवण, ग्राम मोहनपुर मोतीलाल इंटर कालेज दुघरा में परीक्षा देने के लिए सुबह सात बजे नाव पर सवार हुए। नाविक अयोध्या की अनुपस्थिति में उनकी 15 वर्षीय बेटी चांदनी नाव लेकर चली। नाव कुछ ही दूर आगे बढ़ी थी कि पलट गई। चांदनी और सभी छात्र डूबने लगे। घाट के पास खड़ी महिला के शोर मचाने पर खेतों में काम कर रहे ग्रामीण पहुंचे और कड़ी मशक्कत के बाद छात्रों समेत नाविक चांदनी को बचा लिया। नाविक अयोध्या ने बताया कि नाव छह-सात लोगों के बैठने से नहीं पलट सकती। एक बार में 20 लोग सफर करते हैं। ब'चों की शरारत के कारण नाव पलटी है।

Posted By: Pradeep Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप