गोरखपुर, (जेएनएन)। छठ व्रत शुरू हो चुका है। इस व्रत को लेकर बाजार सज गए हैं। तरह-तरह के फल व सब्जियों ने बाजार में दस्तक दे दी है। ऐसे भी फल बाजार में उपलब्ध हैं, जिनका यह मौसम नहीं है। बेमौसम फल थाइलैंड, न्यूजीलैंड, जापान व अमेरिका से मंगाए गए हैं। फलों के राजा आम की आवक मद्रास से हुई है। बड़ी संख्या में श्रद्धालु रविवार को बाजारों में पहुंचे और खरीदारी की। देर रात तक चहल-पहल बनी रही।
धर्मशाला, असुरन, रुस्तमपुर, रीड्स धर्मशाला, गोरखनाथ, घंटाघर व कूड़ाघाट, आर्यनगर आदि बाजारों में छठ पूजा के सामान की दुकानें सजी हैं। छठ पूजा सामग्रियों के दामों में पिछले वर्ष की अपेक्षा ज्यादा उछाल नहीं आया है कुछ में एक-दो रुपये का अंतर तो किसी के दाम बहुत ज्यादा कम हो गए हैं।
मद्रास के आम भी बाजार में
आम 200-500 रुपये प्रति किलो. बिक रहा है। मद्रास से दो तरह के आम आए हैं, सामान्य आम की कीमत 200 रुपये प्रति किलो और बेरी आम 500 रुपये प्रति किलो. बिक रहा है। न्यूजीलैंड से आए पलम की कीमत 350-500 रुपये प्रति किलो है। लाल रंग का जापानी अंगूर 500-600 रुपये प्रति किलो है। ड्रैगन 120 रुपये पीस बिक रहा है।
रीड्स धर्मशाला के फल दुकानदार रामानंद का कहना है कि फलों के दामों में कोई खास अंतर नहीं आया है बल्कि कुछ फल तो पिछले वर्ष के दाम पर ही बिक रहे हैं। बड़ा नींबू पिछले साल भी 15-20 रुपये में बिका था, इस बार भी 20-25 रुपये में बिक रहा है। केला भी पिछले वर्ष 60 रुपये दर्जन था और इस वर्ष 40 रुपये में बिक रहा है। सामान्य दिनों में भी सामान की कीमत लगभग यही रहती है।
दुकानदार संदीप ने कहा कि यह आम व अंगूर का सीजन नहीं है लेकिन मद्रास से आम व जापान व थाईलैंड से अंगूर आया है। इसके अलावा थाइलैंड से माल्टा, ड्रैगन, अमरूद, इमली, न्यूजीलैंड से पलम आया है। अमेरिका से सेव की आवक हुई है। कुछ फल बिहार के सिवान, हाजीपुर व मुजफ्फरपुर से मंगाए गए हैं।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस