गोरखपुर, जागरण संवाददाता। Flood threat in Gorakhpur: अक्टूबर महीने के दूसरे पखवारे में सरयू नदी में बाढ़ का खतरा सताने लगा है। शारदा, गिरिजा एवं सरयू बराज से सरयू नदी में चार लाख 42 हजार 608 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। जिससे अगले दो से तीन दिनों के भीतर नदी के जलस्तर में भारी वृद्धि होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। इस खतरे को देखते हुए प्रशासन की ओर से एलर्ट जारी किया गया है। गोला एवं खजनी तहसील क्षेत्रों में अधिक सतर्कता बरतने का निर्देश दिया गया है।

जिला प्रशासन ने जारी क‍िया एलर्ट

सरयू नदी के खतरे का निशान 92.73 मीटर है और नदी वर्तमान में 91.18 मीटर पर बह रही है। केंंद्रीय जल आयोग एवं बाढ़ खंड दो की ओर से दी गई सूचना के आधार पर जिला प्रशासन की ओर से एलर्ट जारी किया गया है। अब तक एक दिन में करीब 60 से 70 क्यूसेक पानी ही छोड़ा जाता रहा है। पर, मंगलवार को करीब 4.42 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। गिरिजा बराज में दो लाख 61 हजार 487 क्यूसेक, शारदा बराज में एक लाख 64 हहजार 702 क्यूसेक तथा सरयू बराज में 64 हजार 419 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।

बड़हलगंज में हो रही कटान

बड़हलगंज के बगहा देवार गांव में सरयू नदी का जलस्तर घटने के साथ कटान हो रहा है। यहां नदी का पानी बढऩे पर खतरा बढ़ सकता है। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राजेश कुमार ङ्क्षसह ने बताया कि इस स्थान पर कटान रोकने का काम किया जा रहा है लेकिन नदी में अत्यधिक पानी छोड़े जाने के बाद जलस्तर में उतार-चढ़ाव के कारण खतरा बढ़ सकता है, इसको लेकर तहसील प्रशासन को सतर्क रहने का निर्देश दिया गया है। यदि कटान बढ़ता है तो लोगों को विस्थापित करने की कार्ययोजना बनाने को भी कहा गया है। उन्होंने कहा कि गोला एवं खजनी के एसडीएम एवं बाढ़ खंड दो के अधिशासी अभियंता को आवश्यक व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है।

तीन दिनों में हो चुकी है 27.2 मिलीमीटर बारिश

मौसम विशेषज्ञ कैलाश पाण्डेय ने बताया कि बुधवार को जिले के एक चौथाई हिस्से में हल्की बारिश हो सकती है। दिन का अधिकतम तापमान 30 से 31 डिग्री सेल्सियस रह सकता है, जबकि न्यूनतम तापमान 23 से 24 डिग्री सेल्सियस के करीब रह सकता है। हवा उत्तर पूरब से पूरब की तरफ चल सकती है। इसकी अधिकतम गति 5 से 15 किलोमीटर प्रतिघंटे रह सकती है। नमी 75 से 94 फीसद रह सकती है। मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि मंगलवार को सुबह का न्यूनतम तापमान 24.3 डिग्री सेल्सियस रहा।

अक्टूबर माह का औसत न्यूनतम तापमान 20.9 डिग्री सेल्सियस है। मंगलवार को न्यूनतम तापमान औसत से 3.4 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। मंगलवार को दिन का अधिकतम तापमान 30.5 डिग्री सेल्सियस रहा। आर्द्रता अधिकतम 93 फीसद व न्यूनतम नमी 72 फीसद रही। हवा पूरब की तरफ से चली। इसकी अधिकतम गति 16 किलोमीटर प्रति घंटे रही। मंगलवार को दिन में एक मिलीमीटर बारिश हुई है। बता दें पिछले तीन दिनों में 27.2 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है। अक्टूबर माह माह की औसत वर्षा 42.8 मिलीमीटर है। इस माह अब तक औसत से छह गुना अधिक बारिश हो चुकी है।

ऐसा रहा अक्टूबर माह का तापमान

अक्टूबर माह में दिन का औसत अधिकतम तापमान 32.8 डिग्री सेल्सियस है। न्यूनतम तापमान 20.9 डिग्री सेल्सियस है। बता दें अगले कुछ दिनों में दिन का तापमान औसत के करीब रह सकता है, जबकि रात का तापमान औसत से करीब दो डिग्री सेल्सियस अधिक रह सकता है। मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि बुधवार को दिन का अधिकतम तापमान औसत के करीब रह सकता है, जबकि न्यूनतम तापमान से करीब दो से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक रह सकता है। हवा उत्तर पूरब से पूरब की तरफ चल सकती है। इसकी अधिकतम गति 5 से 15 किलोमीटर प्रतिघंटे रह सकती है।

Edited By: Pradeep Srivastava