गोरखपुर, जागरण संवाददाता। यूपी बोर्ड की अंक सुधार की परीक्षा केंद्रों का डीआइओएस ने गुरुवार को निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने भोलाराम मस्करा इंटर कालेज सहजनवां का भी औचक निरीक्षण किया। जहां पांच शिक्षक अनुपस्थित मिले।

अनुपस्थित शिक्षकों से स्‍पष्‍टीकरण मांगने का दिया निर्देश

जिसे गंभीरता से लेते हुए डीआइओएस ने सभी अनुपस्थित शिक्षकों से स्पष्टीकरण लेते हुए प्रधानाचार्य से सप्ताह भीतर आख्या उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान स्कूल में साफ-सफाई, समय-सारिणी व वार्षिक कैलेंडर के अनुसार कार्य नहीं पाया गया। जिस पर उन्होंने असंतोष जताया।

बिना सूचना दिए गायब थे शिक्षक

निरीक्षण के दौरान विद्यालय में जो शिक्षक अनुपस्थित मिले उनमें मनोज कुमार सिंह, श्याम नारायण सिंह, दिनेश राज, संजय सिंह तथा कमलेश यादव शामिल रहे। शिक्षकों की अनुपस्थिति के संबंध में डीआइओएस ज्ञानेंद्र प्रताप सिंह भदौरिया ने जब प्रभारी प्रधानाचार्य शशिभूषण से पूछा तो उन्होंने बताया कि वीरेंद्र सिंह आकस्मिक अवकाश पर हैं। जबकि अन्य पांच शिक्षकों ने न तो अवकाश ही लिया है और न ही लिखित या टेलीफोनिक सूचना ही दी है।

पहले अनुपस्थित पाए गए शिक्षकों पर नहीं हुई कार्रवाई

डीआइओएस ने प्रधानाचार्य से कहा कि 12 दिसंबर 2020 को भी निरीक्षण के दौरान पांच शिक्षक अनुपस्थित मिले थे। जिनके विरुद्ध आज तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिससे प्रतीत होता है कि प्रधानाचार्य का अपने शिक्षकों-कर्मचारियों पर कोई नियंत्रण नहीं है।

कार्रवाई न होने पर प्रबंध समिति होगी जिम्‍मेदार

डीआइओएस ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि पंद्रह दिनों के अंदर प्रबंधक द्वारा नियम विरुद्ध कार्य करने वाले प्रधानाचार्यों व अध्यापकों के विरुद्ध कार्रवाई नहीं की जाती तो प्रबंधक व प्रबंध समिति के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई कर दी जाएगी।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi