गोरखपुर, जागरण संवाददाता। शौक पूरा करने के लिए मोबाइल फोन लूटने वाले दो भाइयों को पिपराइच पुलिस ने 15 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया। उनके कब्जे तीन मोबाइल फोन मिले। दोपहर बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया जहां से जेल भेज दिया गया।

14 जनवरी को की थी लूट

प्रभारी निरीक्षक पिपराइच मधुप नाथ मिश्रा ने बताया कि 14 जनवरी की शाम को बाइक सवार बदमाशों ने पिपराइच के पिपरामुगलान निवासी अश्वनी सिंह का मोबाइल लूट लिया। सर्विलांस व सीसी कैमरा फुटेज की मदद से ताज पिपरा तिराहा के पास बाइक सवार दो बदमाशों को गिरफ्तार किया गया। जिनकी पहचान क्षेत्र के खझवां निवासी विशाल चौरसिया व राहुल के रुप मे हुई। तलाशी लेने पर उनके पास से तीन मोबाइल फोन मिला।पूछताछ में पता चला कि पकड़े गए आरोपितों के पिता हैदराबाद में मजदूरी करते हैं। शौक पूरा करने के लिए वह लूट कर रहे थे।

बाइक सवारों ने लूटा युवती का माेबाइल

चौरीचौरा में साइकिल से घर जा रही युवती का मोबाइल फोन बाइक सवार बदमाशों ने झपट्टा मारकर छीन लिया। सूचना देने पर पहुंची पुलिस ने गुमशुदगी की तहरीर लेकर घर भेज दिया। शहीद स्मारक कालोनी निवासी फुलेना गुप्ता की बेटी श्वेता बाल बुजुर्ग में स्थित नवीन मंडी में दौड़ लगाकर साइकिल से घर आ रही थी। सहेली का फोन आने पर बात करने लगी। इसी दौरान पीछे से आए बाइक सवार दो युवकों ने झपट्टा मारकर मोबाइल फोन छीन लिया। प्रभारी निरीक्षक चौरीचौरा सुबोध कुमार ने बताया कि युवती ने मोबाइल गायब होने की जानकारी दी थी इसलिए गुमशुदगी दर्ज की गई।

किशोरी से छेड़खानी व मारपीट करने वाला गिरफ्तार

किशोरी से छेड़खानी व मारपीट करने वाले युवक काे चिलुआताल पुलिस ने 15 जनवरी की सुबह गिरफ्तार किया। दोपहर बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया जहां से जेल भेज दिया गया। 14 जनवरी की शाम को किशोरी खेत की तरफ गई थी। अकेला पाकर गांव के युवक ने छेड़खानी शुरू कर दी। विरोध करने पर पीट दिया।पीडि़त के पिता की तहरीर पर चिलुआताल पुलिस ने आरोपित रामअशीष के खिलाफ छेड़खानी, मारपीट व पाक्सो एक्ट का मुकदमा दर्ज किया था।प्रभारी निरीक्षक चिलुआताल विनोद अग्निहोत्री ने बताया कि शनिवार की सुबह रामअशीष को महुआतर तिराहा के पास गिरफ्तार कर लिया गया।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi