महराजगंज: पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत कोट कम्हरिया में उस वक्त विवाद बढ़ गया, जब पुलिस ने बिना अनुमति के चल रहा डीजे बंद करा दिया। पुलिस के जाते ही दो पक्षों में जमकर ईंट-पत्थर चले। दोनों पक्षों से एक दर्जन लोग घायल हो गए। पुरंदरपुर पुलिस ने घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लक्ष्मीपुर पहुंचाया। डाक्टरों ने दो की हालत गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत कोट कम्हरिया निवासी राजेन्द्र चौधरी ने उप जिलाधिकारी नौतनवा से अनुमति लेकर अपने घर पर दुर्गा प्रतिमा स्थापित किया, जबकि उसके घर के बगल में ही जवाहिर चौधरी के भतीजे विशाल व विकास ने भी अपने घर पर दुर्गा प्रतिमा स्थापित किया। पुरंदरपुर पुलिस के मुताबिक विशाल चौधरी के घर पर स्थापित प्रतिमा बिना अनुमति के रखी गई है, जिसे लेकर पुलिस की ओर से बार -बार कार्रवाई करने की चेतावनी दी जाती रही। शनिवार की रात गश्त कर रहे पुलिसकर्मी विशाल चौधरी डीजे को बंद करा कर चले गए। पुलिस के जाते ही डीजे बंद कराने के विरोध में कुछ लोगों ने चौकीदार जनार्दन चौधरी को गाली देने लगे, विरोध पर लोगों ने चौकीदार को पीट कर लहूलुहान कर दिया। देखते ही देखते दोनों पक्षों में करीब आधे घंटे तक ईंट-पत्थर चले। जिसमें दोनों पक्षों से जनार्दन, अकाली, बिन्दू, सुभावती, जवाहिर, सुमन, विशाल, राजेन्द्र, विकास समेत 12 लोग घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुरंदरपुर पुलिस ने घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लक्ष्मीपुर पहुंचाया। थानाध्यक्ष पुरंदरपुर शाह मुहम्मद ने बताया कि घायलों को इलाज के लिए भेजा गया है। अभी किसी पक्ष से तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021