गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर-सोहंगीबरवा इको टूरिज्म परिपथ सहित प्रदेश के कुल तीन इको टूरिज्म परिपथ के लिए आगामी 28 अक्टूबर को ड्राई रन होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसके लिए आनलाइन फ्लैग आफ करेंगे। पर्यटन, पर्यावरण में अभिरुचि रखने वाले 15 सदस्यीय टीम को उसी दिन चिड़ियाघर से रवाना किया जाएगा। वह 28 व 29 अक्टूबर को गोरखपुर-सोहंगीबरवा इको टूरिज्म परिपथ पर बनाए गए नौ टूरिस्ट स्पाटों का नजारा देखेंगे और उसके बाद अपने अनुभव व सुझाव को परिपथ के नोडल अधिकारियों से साझा करेंगे।

यूपी में तैयार क‍िए गए तीन इको टूर‍िज्‍म पर‍िपथ

गोरखपुर-सोहंगीबरवा सहित प्रदेश में तीन इको टूरिज्म परिपथ तैयार किया गया है। इस परिपथ को उस क्षेत्र वन, वन्यजीव पर्यटकीय क्षेत्रों से जोड़ा गया है। गोरखपुर-सोहंगीबरवा परिपथ पर नौ टूरिस्ट स्पाट है। पर्यटकों की यात्रा चिड़ियाघर से शुरू होगी और मधवलिया वन विश्राम गृह पर यात्रा का समापन होगा। उसके बाद फिर पर्यटकों को वहीं लाकर छोड़ा जाएगा, जहां से यात्रा आरंभ हुई थी। इस परियोजना का उद्देश्य न सिर्फ पर्यटकों का मनोरंजन है, बल्कि उन्हें वन, वन्यजीव के महत्व के विषय बताना है।

यात्रा में वन व‍िभाग का गाइड में रहेगा

यात्रा के दौरान पर्यटकों के साथ वन विभाग का गाइड भी साथ रहेगा, वह प्रत्येक स्थलों के महत्व से उन्हें वाकिफ भी कराता रहेगा। गोरखपुर-सोहंगीबरवा इको टूरिज्म परिपथ के लिए गोंडा के मुख्य वन संरक्षक सुजाय बनर्जी को नोडल बनाया गया है। प्रदेश के प्रधान मुख्य वन संरक्षक वन्य जीव पवन कुमार शर्मा ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि फ्लैग आफ वर्चुअल मोड में होगा। ड्राई रन इवेंट के लिए नोडल को जिम्मेदारी सौंपी गई है कि वह संबंधित स्थलों पर रहकर हाईस्पीड इंटरनेट की व्यवस्था कराएं। कार्यक्रम की सफलता के लिए प्रभागीय वनाधिकारी गोरखपुर को भी जिम्मेदारी सौंपी गई है।

जानिए गोरखपुर-सोहंगीबरवा इको टूरिज्म परिपथ के पिकनिक स्पाट

गोरखपुर चिड़ियाघर

विनोद वन

बुढ़िया माता मंदिर

परगापुर ताल

लेहड़ा देवी मंदिर व सुन्नर मुन्नर

सोनाड़ी देवी मंदिर

निचलौल दर्जिनिया ताल

टेलफाल

मधवलिया वन विश्राम गृह।

Edited By: Pradeep Srivastava