जागरण संवाददाता, रामपुर कारखाना : उद्यान राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार व जिले के प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान ने बुधवार को रामपुर कारखाना पीएचसी में होने वाले 22.12 लाख रुपये की लागत से चार कार्यो का शिलान्यास भी किया। रामपुर कारखाना ब्लाक में आयोजित कार्यक्रम के दौरान उन्होंने स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को सामुदायिक शौचालय के देख-रेख की स्वीकृति दी।

चौहान ने कहा कि महिलाएं पहले समूह में केवल बचत की भावना से जुड़ती थीं, लेकिन अब महिलाएं समूह की बैठक में बचत के अतिरिक्त ग्रामीण महिलाओं की समस्याओं एवं उनके विकास संबंधित चर्चाएं भी करने लगी है। स्वयं सहायता समूह महिलाओं को सशक्त बना रहा है। समूह में कार्य करने से महिलाओं के स्वाभिमान, गौरव व आत्म निर्भरता में वृद्धि हो रही है। भारत दुनिया भर में महिलाओं द्वारा संचालित स्वयं सहायता समूहों के क्षेत्र में सर्वोपरि स्थान रखता है।

उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह, आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्ता इन सभी का देश के विकास में बहुत ही बड़ा योगदान है। इन महिलाओं का कार्य ग्राउंड लेबल पर है। गांव-गांव में महिलाओं के उन्नयन के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित हैं।

प्रभारी मंत्री ने विकास खंड रामपुर कारखाना में कृषि, विद्युत, स्वास्थ्य से जुड़े अधिकारियों के साथ समीक्षा की और केसीसी पर प्रमुखता से उन्होंने बल दिया। संचालन जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय ने किया। इससे पहले बरवा उपाध्याय गांव में पौधारोपण किया। इस दौरान विधायक प्रतिनिधि डा.संजीव शुक्ला, अजय कुमार दुबे, मारकंडे शाही, मार्कंडेय तिवारी, मंडल अध्यक्ष दीपक जायसवाल, सत्येंद्र मणि, मुक्तिनाथ तिवारी, त्रिलोकी पति त्रिपाठी, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकान्त राय, डीसी मनरेगा गजेन्द्र त्रिपाठी प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Edited By: Jagran