देवरिया, जागरण संवाददाता। देवरिया जिले में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां पारिवारिक विवाद में बसपा नेता ने गुरुवार की रात कनपटी पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मौके से लाइसेंसी पिस्टल बरामद किया है। पुलिस का कहना है कि शराब पीने के कारण स्वजन से नोकझोंक हुई थी। जिसके बाद गुस्से में आकर यह कदम उठाया।

यह है पूरा मामला

जनपद के गौरीबाजार थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव के रहने वाले पूर्व प्रधान व बसपा नेता 50 वर्षीय ओमप्रकाश पासवान गुरुवार की शाम को घर आए तो परिवारवालों से विवाद हो गया। पुलिस के अनुसार, पत्नी व अन्य स्वजन से कहासुनी हो गई। स्वजन खाना खाकर सोने चले गए। तभी बसपा नेता ने लाइसेंसी पिस्टल से कनपटी पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली। गोली की आवाज सुनकर स्वजन कमरे में गए तो वह नीचे पड़े थे। मौके पर पिस्टल गिरा था। स्वजन उनको इलाज के लिए सीएचसी ले जाने की तैयारी कर रहे थे, तभी उन्होंने दम तोड़ दिया।

पांच दिन बाद आए थे घर

पुलिस के अनुसार बसपा नेता चार-पांच दिन बाद गुरुवार की रात घर आए थे। स्वजन ने उनसे इतने दिन बाहर रहने के बारे में जानकारी ली तो वह नाराज हो गए। गोली से मृत्यु की जानकारी होने के बाद स्वजन में चीख पुकार मच गई। हर कोई इस घटना से स्तब्ध था। स्वजन को अंदाजा नहीं था कि वह इतना बड़ा कदम उठा लेंगे।

दरवाजे पर जुटी भीड़

बसपा नेता की मृत्यु की खबर सुनकर दरवाजे पर लोगों की भीड़ जुट गई। हर कोई घटना पर अफसोस जाहिर कर रहा था। लोगों का कहना था कि वह लोगों के दुख-सुख में खड़े रहते थे। सामाजिक व्यक्ति थे। उन्होंने आखिर किन परिस्थितियों में आत्महत्या की।

क्या कहती है पुलिस

थानाध्यक्ष गौरीबाजार विपिन मलिक ने बताया कि मौके पर पुलिस तत्काल पहुंच गई थी। वह जमीन पर मृत अवस्था में पड़े थे। गोली कनपटी के पास लगी थी। पारिवारिक विवाद में उन्होंने गोली मारकर आत्महत्या की है।

Edited By: Pragati Chand