गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से कम हो रहे हैं। जिले में कोरोना संक्रमण के सात नए मामले सामने आए। इनमें ग्रामीण क्षेत्र में चार और शहरी क्षेत्र में तीन मरीज मिले हैं। इस दौरान 17 लोग ठीक भी हुए हैं। बाबा राघवदास मेडिकल कालेज में 55 वर्षीय एक महिला की मौत हुई।

सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय ने बताया कि पिछले साल से अब तक जिले में कोरोना के 59 हजार 237 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 58 हजार 256 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या 142 हो गई है। कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है इसलिए सभी को कोविड प्रोटोकाल का पूरी तरह पालन करना चाहिए। मास्क जरूर लगाएं और दो गज की दूरी का पालन करें।

सात ब्लाकों में टीकाकरण का विशेष अभियान

कोरोना से बचाव का टीका लगाने के लिए सोमवार को जिले के सात ब्लाकों में विशेष अभियान चलाया गया। स्वास्थ्य विभाग ने रविवार को अभियान को लेकर अफसरों के साथ बैठक की थी। 20 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। सोमवार को 50 बूथों पर पहले की तरह टीकाकरण किया गया।

उधर, विकास भवन में मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) इंद्रजीत सिंह ने सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एनके पांडेय और अन्य अफसरों के साथ बैठक की। सीडीओ ने टीकाकरण अभियान में शिक्षा विभाग, पंचायतीराज विभाग, आपूर्ति विभाग, ब्लाक के अफसरों को अभियान में पूरी तरह सहयोग देने के निर्देश दिए।

विकास भवन में बनेगा वार रूम

टीकाकरण की पल-पल की स्थिति की जानकारी के लिए विकास भवन में वार रूम बनाया जाएगा। सीडीओ ने कहा कि हर दो घंटे में टीकाकरण का अपडेट देना होगा। सात ब्लाकों में 102 गांवों में टीकाकरण अभियान चल रहा है। ब्लाकों में 12-16 गांवों का क्लस्टर बनाया गया है। सीएमओ डा. सुधाकर पांडेय ने बताया कि गांवों में अभियान के लिए 118 टीमें बनाई गई हैं। इन गांवों में तकरीबन 1.75 लाख की आबादी है। एक लाख से ज्यादा आबादी को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है। एक जुलाई से सभी ब्लाकों में अभियान चलाया जाएगा।

Edited By: Satish Chand Shukla