गोरखपुर, जागरण संवाददाता। संतकबीर नगर जनपद में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। जांच में हर दिन संक्रमित मिल रहे हैं। 22 जनवरी को इस सीजन में सबसे अधिक 50 संक्रमित मिले। जिले में कोरोना के संक्रमितों की संख्या अब 171 हो चुकी है। जिस तेजी से संक्रमण फैल रहा है उसे लेकर लोगों में दहशत है।

1279 की रिपोर्ट आने का है इंतजार

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. मोहन झा ने बताया कि आरटी-पीसीआर के 952 नमूनों की जांच रिपोर्ट में 912 निगेटिव व 40 की रिपोर्ट पाजिटिव मिली। रैपिड एंटीजन टेस्ट के 597 नमूनों की जांच रिपोर्ट में 588 निगेटिव व नौ की रिपोर्ट पाजिटिव निकली। टूरेंट में आठ की रिपोर्ट निगेटिव और एक की पाजिटिव आई है। इस प्रकार एक दिन में 50 कोरोना संक्रमित मिले हैं। किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमसी) से 1279 की रिपोर्ट का इंतजार है। उन्होंने कहा कि कोरोना से भयभीत होने की जरूरत नहीं है। उपचार के लिए स्वास्थ्य विभाग की तैयारियां पूरी हैं। सावधानियां अपनाकर बचाव किया जा सकता है।

7317 किशोरों समेत 29573 को लगा कोरोना से बचाव का टीका

कोरोना से बचाव के लिए 22 जनवरी को जिले के 11 स्वास्थ्य केंद्रों पर कुल 29573 को टीका लगा। इसमें 16558 को पहली एवं 13015 को दूसरी डोज लगाई गई। टीका लगवाने वालों में 7317 किशोर (15 से 18 वर्ष आयु) वर्ग के साथ ही 8059 युवा व 14197 बुजुर्ग शामिल हैं।

यहां हुआ इतने का टीकाकरण

जिला चिकित्सालय के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों (सीएचसी) व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी) पर टीका लगाया गया। किशोर वर्ग में बेलहर कला में सर्वाधिक 2986 को को-वैक्सीन लगाई गई। 18 से 44 वर्ष आयु के 3093 युवाओं को पहली व 4966 को दूसरी, 45 वर्ष से ऊपर आयु के 2992 को पहली व 4479 को दूसरी डोज लगाई गई। 60 वर्ष से ऊपर आयु के 3156 को पहली व 3429 लोगों को दूसरी डोज लगी।

44 हजार के टीकाकरण का है लक्ष्‍य

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. एस रहमान ने बताया कि कुल 44400 का लक्ष्य रखा गया था। खलीलाबाद में 4444 को टीका लगा। पीएचसी पौली में 2940, सीएचसी नाथनगर में 840, सीएचसी सांथा में 1710, सीएचसी सेमरियावां में 3158, सीएचसी मेंहदावल में 2960, सीएचसी हैंसर बाजार में 3193, बेलहर कला में 3537, पीएचसी बघौली में 4875, जिला चिकित्सालय एमसीएच विंग 1575, अरबन स्वास्थ्य केंद्र मगहर में 180 लोगों को टीका लगाया गया।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi