गोरखपुर, दुर्गेश त्रिपाठी। कांग्रेस में विधानसभा चुनाव का टिकट पाने के लिए लाइन लगाने वाले नेताओं को अब जमीन पर भी खुद को साबित करना होगा। हवाई नेताओं को टिकट देने से बचने के लिए कांग्रेस नेतृत्व ने उन्हीं को टिकट देने की घोषणा की है जो संबंधित विधानसभा में कम से कम 10 हजार सदस्य बनाएंगे। टोल फ्री नंबर पर मिस्ड काल या पर्चे पर सदस्य बनाने होंगे। सदस्यता की समीक्षा भी की जाएगी।

बूथ स्‍तर पर लोगों को पार्टी से जोडने के लिए चलाया जाएगा अभियान

विधानसभा चुनाव में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने के लिए कांग्रेस लगातार बूथ स्तर पर काम में जुटी है। बूथ स्तर पर लोगों को पार्टी से जोडऩे के लिए अभियान भी चलाया जा रहा है। अब विधानसभा चुनाव का समय नजदीक आता देख कांग्रेस पार्टी उम्मीदवारों के नाम को अंतिम रूप देने में जुट गई है।

25 सदस्यीय टीम का करना होगा गठन

विधानसभा चुनाव के लिए आवेदकों को पांच-पांच सदस्य वाली 25 सदस्यीय टीम का भी गठन करना होगा। इन सदस्यों की टीम बनाकर इसकी सूची, टीम लीडर के नाम व मोबाइल नंबर के साथ पीसीसी केंद्रीय कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराना होगा। टिकट के दावेदार मिस्ड काल के जरिये जिसे सदस्यता दिलाएंगे उसका ब्योरा उन्हें रखना होगा, जिसकी तस्दीक समय आने पर की जाएगी। टिकट के आवेदक को 25 सदस्यीय टीम के लिए एक प्रभारी भी नियुक्त करना होगा। यह सदस्यता टीम रोजाना 25 नए सदस्य बनाएगी।

11 हजार जमा कराया गया

विधानसभा चुनाव में टिकट के लिए दावेदारी करने वालों से पार्टी ने 11-11 हजार रुपये जमा कराए हैं। यह पहली बार है जब दावेदारों से रुपये जमा कराए गए हैं। पार्टी के पदाधिकारियों का कहना है कि यह कांग्रेस की बढ़ती लोकप्रियता का उदाहरण है कि लोगों में 11 हजार रुपये जमा कर प्रत्याशी बनने की होड़ लगी है।

अब तक इतने दावेदार

विधानसभा दावेदार

कैंपियरंगज            09

पिपराइच               06

शहर                     12

ग्रामीण                 14

सहजनवां              08

खजनी                  09

चौरी चौरा              07

बांसगांव                09

चिल्लूपार              05

काम करने वालों को दिया जाएगा पार्टी का टिकट

प्रदेश उपाध्‍यक्ष विश्‍वविजय सिंह ने बताया कि पार्टी के लिए लगातार काम करने वालों को विधानसभा चुनाव में टिकट दिया जाएगा। पार्टी के आंदोलनों में सक्रियता भी देखी जाएगी। यह राहुल व प्रियंका गांधी वाड्रा के नेतृत्व वाली कांग्रेस की लोकप्रियता है कि प्रत्याशियों की संख्या में रोजाना इजाफा हो रहा है।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi