गोरखपुर, प्रेम नारायण द्विवेदी। अब ट्रेन की बोगियों में गंदगी नहीं दिखेगी। सफाईकर्मियों की बहानेबाजी व मनमानी भी नहीं चलेगी। क्योंकि सफाई व्यवस्था की निगरानी को बोर्ड के दिशा-निर्देश पर पूर्वोत्तर रेलवे ने 'क्लीन रेल' नाम का मोबाइल एप लांच किया है।

यात्री रेलवे कंट्रोल रूम तक सीधे अपनी शिकायत पहुंचा सकते हैं। तत्काल कार्रवाई होगी। सुझाव (फीडबैक) भी दे सकते हैं। रियल टाइम मॉनीटरिंग के लिए ट्रेन रवाना होते ही सफाईकर्मी, एप के जरिये अपनी उपस्थिति और बोगियों की स्थिति कंट्रोल रूम तक पहुंचाते रहेंगे। एप को यात्रियों से भी जोड़ दिया गया है। बोगियों में जागरूकता से संबंधित स्टीकर चस्पा किए जाएंगे। जिस पर स्व'छता संदेश के अलावा क्यूआर कोड और लिंक अंकित होगा। यात्री मोबाइल से क्यूआर कोड स्कैन कर या लिंक टाइप कर अपनी बात पहुंचा सकेंगे।

पूर्वोत्तर रेलवे की 57 ट्रेनों में मिलेगी सुविधा

पूर्वोत्तर रेलवे की 57 एक्सप्रेस ट्रेनों में ऑनबोर्ड हाउसकीपिंग सिस्टम (ओबीएचएस) लागू है। इज्जतनगर व वाराणसी मंडल की दस-दस और लखनऊ मंडल की 37 ट्रेनें शामिल हैं। इनमें ही सुविधा मिलेगी।

एस टू कोच में मौजूद रहते हैं सफाईकर्मी

एस टू कोच में 71 व 72 नंबर की बर्थ पर सफाईकर्मी मौजूद रहते हैं। यात्री एप के अलावा cleanmycoach.com  वेबसाइट या 58888 नंबर पर क्लीन स्पेस पीएनआर नंबर लिखकर एसएमएस कर सकते हैं।

सफाई व्यवस्था की बेहतर मॉनीटङ्क्षरग के लिए इज्जतनगर मंडल ने यह एप तैयार किया है। यहां की ट्रेनों में यह सुविधा मिलने लगी है। जल्द ही लखनऊ और वाराणसी मंडल की ट्रेनों में भी नई व्यवस्था लागू हो जाएगी। - पंकज कुमार सिंह, सीपीआरओ, एनई रेलवे।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस