गोरखपुर, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच अगस्त को वनटांगिया समुदाय के बीच अन्न महोत्सव मना सकते हैं। अन्न महोत्सव के आयोजन की तैयारियां चल रही हैं। यहां हेलीपैड का निर्माण भी किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वनटांगिया गांव जंगल तिनकोनिया नंबर तीन के दो लाभार्थियों से आनलाइन संवाद भी कर सकते हैं। प्रधानमंत्री के संबोधन का सजीव प्रसारण होगा। इसके बाद मुख्यमंत्री भी यहां कुछ लाभार्थियों को अपने हाथ से अनाज एवं झोला वितरित करेंगे। प्रधानमंत्री से आनलाइन संवाद के लिए वनटांगिया गांव के लाभार्थी नरसिंह एवं दीपमाला का चयन किया गया है।

करीब 100 साल तक जंगल में उपेक्षित जीवन जीने वाले वनग्रामों के निवासियों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ही समाज व विकास की मुख्यधारा में लेकर आए हैं। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर रविवार की शाम को जैसे ही जिलाधिकारी गांव में पहुंचे वनटांगिया गांव के लोगों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। यहां हेलीपैड का निर्माण चल रहा है और करीब 500 लोगों के बैठने की व्यवस्था भी की जारही है।

सीएम बनते ही योगी ने बदल दी वनटांगिया गांवों की दशा

2017 में मुख्यमंत्री बनने के बाद से तो उन्होंने वनटांगिया गांवों की दशा ही बदल दी है। गोरखपुर के कुसम्ही जंगल के तिकोनिया नंबर तीन, रजही खाले टोला, रजही नर्सरी, आमबाग नर्सरी और चिलबिलवा के जो वनटांगिया आजादी के 70 साल बाद तक बुनियादी सुविधाओं को तरसते थे, आज मुख्यमंत्री की इनायत से शहर सरीखी सुविधाओं के बीच सुखमय जीवन बिता रहे हैं। इन गांवों का इतिहास 100 साल से भी अधिक पुराना है। वनटांगिया समुदाय के लोगों की नजर में मुख्यमंत्री योगी की अलग छवि है। वे खुलकर कहते हैं कि उन्हें जो भी मिला है, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कारण मिला है।

जिले के हर कोटे की दुकान पर वितरित होगा राशन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत गुरुवार को जिले की प्रत्येक उचित मूल्य की दुकान (कोटे की दुकान) पर राशन वितरित किया जाएगा। राशन वितरण के लिए राज्य सरकार की ओर से उपलब्ध कराए गए झोले में जनप्रतिनिधियों की ओर से राशन दिया जाएगा। हर दुकान पर कम से कम 100 लाभार्थियों को पांच अगस्त को राशन मिलेगा। जिले में कोटे की 1895 दुकानें हैं। इस तरह से करीब दो लाख से अधिक कार्डधारकों को राशन दिया जाएगा। राशन वितरण कार्यक्रम में सांसद से लेकर ग्राम प्रधान तक अपने-अपने क्षेत्र में उपस्थित रहेंगे। हर लाभार्थी को पांच किलोग्राम राशन उपलब्ध कराया जाएगा।

सजाई जाएंगी कोटे की दुकानें

कार्यक्रम को देखते हुए कोटे की सभी दुकानों को फूल मालाओं से सजाया जाएगा। हर जगह नोडल अधिकारी तैनात होंगे। इनकी तैनाती एसडीएम के स्तर से की जाएगी। नोडल अधिकारी के रूप में लेखपाल, पंचायत सचिव एवं अन्य कर्मचारियों, शिक्षकों को तैनात किया जाएगा। गरीब कल्याण अन्न योजना की स्टैंडी भी वहां लगाई जाएगी। जिन दुकानों पर जगह नहीं होगी, वहां आसपास खाली स्थान पर टेंट लगाकर वितरण किया जाएगा।

बना कंट्रोल रूम

कार्यक्रम की सफलता के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में पूर्व से स्थापित कोविड कंट्रोल रूम को इस कार्यक्रम के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। फोन नंबर 0551- 2202205 एवं मोबाइल नंबर 9532041882 पर संपर्क किया जा सकता है।

कार्यक्रम स्थल पर इन लाभार्थियों को मुख्यमंत्री दे सकते हैं राशन

वनटांगिया गांव के नरसिंह पुत्र रामपत

वनटांगिया गांव की दीपमाला पत्नी रामसरन

जंगल धूसड़ की सोना पत्नी हजारी

जंगल धूसड़ की शकुंतला पत्नी बिहारी विश्वकर्मा

बनगाई की गंगोत्री देवी पत्नी रामलवट

बनगाई की सनरी पत्नी सीताराम

अमवा की इसरावती पत्नी अवधेश

अमवा के रामानंद पुत्र दुलारे

नरायनपुर के पल्टू पुत्र सीताराम

नरायनपुर की मीरन देवी पत्नी किशोर

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत उचित मूल्य की सभी दुकानों पर लाभार्थियों को झोले में राशन उपलब्ध कराया जाएगा। प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम से आनलाइन जुड़ेंगे। हर दुकान पर प्रधानमंत्री के संबोधन का सजीव प्रसारण होगा। हर दुकान पर कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए 100 लाभार्थियों को राशन वितरित किया जाएगा। कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए निर्देश दिए गए हैं। - विजय किरन आनंद, जिलाधिकारी।

Edited By: Pradeep Srivastava