गोरखपुर, जागरण संवाददाता। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बरसात में क्षतिग्रस्त हुई सड़कों को 15 नवंबर तक गड्ढामुक्त किया जाए। धान खरीद की तैयारियां पूरी कर ली जाएं और सभी किसानों से धान की खरीद हो। उन्होंने विकास परियोजनाओं को समय से पूरा करने का निर्देश दिया।

धान खरीद की समीक्षा करते हुए सभी तैयारियां पूरी करने का दिया निर्देश

मुख्यमंत्री गोरखनाथ मंदिर में अधिकारियों के साथ बैठक करते हुए विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। करीब एक घंटे तक चली बैठक में सड़कों को गड्ढामुक्त करने के अभियान की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री को बताया गया कि सड़कों को गड्ढामुक्त बनाने का काम शुरू कर दिया गया है। निर्धारित समय से काम पूरा कर लिया जाएगा। धान खरीद की समीक्षा के दौरान बताया गया कि अभी तक जिले में 101 केंद्र बना लिए गए हैं और सभी केंद्रों पर सुविधाएं मुहैया करायी जा रही हैं। मुख्यमंत्री को बताया गया कि एक नवंबर से यहां धान की खरीद की जाएगी।

गोरखपुर में जलभराव पर भी की चर्चा

मुख्यमंत्री ने महानगर में जलभराव की स्थिति की भी समीक्षा की। मुख्यमंत्री को बताया गया कि अधिकतर क्षेत्रों से पानी निकल चुका है। खोराबार एवं कुछ अन्य क्षेत्रों में पानी लगा है, जिसे जल्द निकाल दिया जाएगा। जलनिकासी के बाद बीमारियों से बचाव के लिए छिड़काव कराने को भी कहा गया। मुख्यमंत्री ने चौराहों के सुंदरीकरण की भी समीक्षा की। सड़कों पर पाथ वे बनाने, डिवाइडर एव ग्रीन बेल्ट बनाने का निर्देश दिया। इस काम की समीक्षा जिलाधिकारी को करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), मोहद्दीपुर-जंगल कौड़िया मार्ग चौड़ीकरण, गोरखपुर-वाराणसी राष्ट्रीय राजमार्ग, गोरखपुर-देवरिया, गोरखपुर-महराजगंज मार्ग के निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी परियोजनाओं को समय से पूरा कर लिया जाए।

सीएम योगी आज करेंगे महंत अवेद्यनाथ राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को अपने गुरु ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ के नाम पर जंगल कौड़िया में बने राजकीय महाविद्यालय का लोकार्पण करेंगे। इस अवसर पर वह परिसर में स्थापित ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ की आदमकद कांस्य प्रतिमा का अनावरण भी करेंगे। सुबह 11 बजे आयोजित होने वाले लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और उच्च शिक्षा राज्यमंत्री नीलिमा कटियार की मौजूदगी भी रहेगी। चूंकि पखवारे भर पहले महंत अवेद्यनाथ की सातवीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, इसलिए इस आयोजन को भी उन्हें दी जाने वाली श्रद्धांजलि कार्यक्रम के रूप में ही देखा जा रहा है। महाविद्यालय की आधारशिला मुख्यमंत्री द्वारा ही 21 मई 2018 को रखी गई थी। करीब 31 करोड़ की लागत से महाविद्यालय का निर्माण किया गया है। ब्रह्मलीन महंत चूंकि पांच बार तत्कालीन विधानसभा क्षेत्र मानीराम के विधायक रहे हैं और जंगल कौड़िया इस विधानसभा क्षेत्र का प्रमुख केंद्र रहा है, इसलिए इस क्षेत्र के लोगों की उनमें अपार श्रद्धा है।

इसी सत्र से शुरू होंगी स्नातक प्रथम वर्ष की कक्षाएं

सीएम योगी की मंशा के अनुरूप इसी सत्र से इस महाविद्यालय में स्नातक प्रथम वर्ष की कक्षाएं शुरू होंगी। यह महाविद्यालय पंडित दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से संबद्ध है और इसे कला, विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय की कक्षाओं के संचालन की मंजूरी मिल चुकी है। तीनों संकायों में चार सौ से अधिक विद्यार्थियों का प्रवेश भी सुनिश्चित हो चुका है। प्रवेश प्रक्रिया अभी भी जारी है। प्राचार्य, शिक्षकों और कर्मचारियों की तैनाती भी हो चुकी है। 14 कक्षों का यह महाविद्यालय लाइब्रेरी, प्रयोगशाला और प्रेक्षागृह से युक्त है। छात्राओं और छात्रों के लिए अलग-अलग हास्टल बनाए गए हैं।

Edited By: Pradeep Srivastava