गोरखपुर, जेएनएन। महाराणा प्रताप इंटर कालेज में आयोजित कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी ही पार्टी के विधायक फतेह बहादुर सिंह की क्लास ली। योगी ने उन्हें नसीहत दी कि कोई भी मुद्दा उठाने से पहले पूरी जानकारी जरूर कर लिया करें। जानकारी के अभाव में ऐसे ही लोग अपनी उपलब्धियों को धोकर रख देते हैं।

दरअसल, योगी के संबोधन से पहले कैंपियरगंज के विधायक फतेह बहादुर सिंह ने अपने भाषण में पूर्वांचल में बेरोजगारी का मुद्दा उठाया और इस ओर मुख्यमंत्री से विशेष ध्यान देने के लिए कहा। इसके बाद कार्यकर्ताओं से संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने मंच से विधायक को जवाब दिया और कहा कि फर्टिलाइजर, एम्स और पिपराइच चीनी मिल से लोगों को बड़ी संख्या में रोजगार मिलने जा रहा है।

योगी ने कहा कि आगे भी इसे लेकर कई योजनाओं पर काम चल रहा है। ऐसे लोग जो रोजगार के अभाव की बात कर रहे हैं, दरअसल उनमें बुद्धि और विवेक का अभाव है। ऐसे ही लोग बिना किसी कारण के अपनी उपलब्धियों पर पानी फेर देते हैं।

सीएम ने सभी का आभार जताया

महाराणा प्रताप इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह का माहौल अद्भुत था। चारो ओर जश्न का माहौल था। मंच पर मौजूद अतिथि आत्मविश्वास से लबरेज थे तो उनके सामने बैठे कार्यकर्ता उत्साह से। सभी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने अपनी उपस्थिति दर्ज कराने को बेताब थे। यह बेताबी थी जीत बढ़े हौसले की और चुनाव को लेकर खुद का रिपोर्ट कार्ड प्रस्तुत करने की।

मुख्यमंत्री ने भी मंच पर आते ही उनका भरपूर संज्ञान लिया और पहले अभिवादन से और फिर संबोधन से उनका आभार जताते हुए नए लक्ष्य के लिए तैयार हो जाने के लिए प्रेरित किया।

कार्यकर्ताओं को सराहा

चुनाव मेंं अपने बूथ से बेहतर मतदान कराने वाले बूथ कार्यकर्ताओं को सम्मानित करते हुए योगी ने कहा कि चयनित कार्यकर्ताओं को सम्मानित करने का उद्देश्य प्रतिस्पर्धा को बढ़ाना है। यह सम्मान बहुत से कार्यकर्ताओं को अगले चुनाव में बेहतर प्रदर्शन के प्रेरित करेगा। इस दौरान योगी यह कहना नहीं भूले की यह प्रतिस्पर्धा स्वस्थ होनी चाहिए। स्वस्थ प्रतिस्पर्धा से ही सकारात्मक प्रयास और परिणाम संभव होता है। जीत में कार्यकर्ताओं के योगदान की सराहना करते हुए योगी ने बरसात से पहले शुरू होने वाले स्वच्छता अभियान के लिए उन्हें तैयार रहने को कहा।

योगी ने चुनाव की तरह ही कमर कसने की बूथ कार्यकर्ताओं से अपील की। पिछले स्वच्छता अभियान से इंसेफ्लाइटिस पर लगे लगाम की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार का अभियान इस रोग से पूर्वांचल को निजात दिला देगा। केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसको इसका लाभ मिल गया उन्हें इसका जमकर प्रचार करना चाहिए और जिन्हें नहीं मिला उन्हें धैर्य से इंतजार करना चाहिए।

कार्यक्रम में यह भी रहे मौजूद

नगर विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल, फतेह बहादुर सिंह, विपिन सिंह, शीतल पांडेय, महेंद्र पाल सिंह, महापौर सीताराम जायसवाल शामिल रहे। संचालन जिलाध्यक्ष जनार्दन तिवारी ने तो अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष राहुल श्रीवास्तव ने की। इस अवसर पर प्रदेश सरकार के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष उपेंद्र दत्त शुक्ला, प्रदेश मंत्री कामेश्वर सिंह, पूर्व मेयर डॉ. सत्या पांडेय, ई. पीके मल्ल, डॉ. विभ्राट चन्द कौशिक, रणंजय सिंह जुगनू, बृजेश मणि मिश्र, बृजेश त्रिपाठी, कृष्ण कुमार रंजना गुप्ता, डॉ. शोभित श्रीवास्तव, हिमांशु श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

रवि किशन बोले, तैयार कई लिहले हईं फिल्म सिटी क खाका

कार्यकर्ता अभिनंदन समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबोधन से पहले रवि किशन ने मंच से कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए कहा कि वह विकास की जिस योजना के साथ गोरखपुर आए हैं, उसकी रूपरेखा तैयार कर ली है। भोजपुरिया अंदाज में उन्होंने कहा कि- फिल्म सिटी का खाका तैयार हो गइल बा, मुख्यमंत्री के खाली होते हम ओके देखाइब। जल्दिए गोरखपुर में फिल्म सिटी होई अउर येह सहर से हजारन रवि किशन तैयार होइहें। कला और विकास के संगम क जौन सपना योगी जी देखले हवें, ऊ जरूर पूरा होई। संबोधन के क्रम में रवि किशन ने खुद को अर्जुन और योगी को कृष्ण की संज्ञा से नवाजा। योगी जइसन कृष्ण के प्रयास से ही ऐतिहासिक जीत हासिल भइल अउर गठबंधन पूरी तरह से ध्वस्त हो गइल।

प्रधानमंत्री कहलन, सीखो और बढ़ो

संबोधन के दौरान रवि किशन संसद में पहली जाने के अपने अनुभव को साझा करना नहीं भूले। उन्होंने बताया कि संसद में प्रधानमंत्री ने खुद उनके पास आकर जीत की बधाई दी। रवि किशन ने बताया कि भोजन के दौरान जब प्रधानमंत्री उनके पास आए तो उनके हाथ की थाली हिलने लगी। हिम्मत करके जब यह बोला कि संसद में आपका भाषण अद्भुत था तो उन्होंने यह कहकर हौसलाफजाई की कि सीखों और बढ़ो।

17 स्थानों पर हुआ मुख्यमंत्री का स्वागत

चुनाव में जीत के बाद पहली बार गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को अभिनंदन समारोह में हिस्सा लेने के लिए जब मंदिर परिसर से निकले तो विभिन्न स्थानों पर लोग उनके स्वागत के लिए खड़े दिखे। कुछ 17 स्थानों पर मुख्यमंत्री का स्वागत अगल संस्थाओं ने किया। मुख्यमंत्री ने सभी को जीत की बधाई दी और मतदान के लिए लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया।

मंदिर में हुआ राई नृत्य

जीत के बाद पहली बार गोरखपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मंदिर में झांसी से आई अयोध्या शोध संस्थान की सांस्कृतिक टीम ने बुंदेलखंडी राई नृत्य से स्वागत किया। 15 सदस्यीय मंडली ने करीब ढाई घंटे की नृत्य प्रस्तुति में मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं का दिल जीत लिया। मंडली में निशांत सिंह भदौरिया, वंदना कुशवाहा, शिवानी शाक्य, निशा दास, पूजा, जीतू, हैप्पी, दीपक, भानू, उदल, तुलाराम, ध्यान सिंह शामिल रहे। मंडली के नेतृत्वकर्ता निशांत ने बताया कि उन्हें सांस्कृतिक विभाग ने गोरखपुर भेजा है। इससे पहले सोमवार को उन्होंने वाराणसी में प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत अपने नृत्य से किया है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस