गोरखपुर, जागरण संवाददाता। खाद कारखाना में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सुनने तीन हजार बसों से नागरिक आएंगे। गोरखपुर-बस्ती मंडल के जिलों के साथ ही अन्य जिलों के नागरिकों के 10 हजार से ज्यादा चार पहिया वाहनों से प्रधानमंत्री की रैली में आने की संभावना को देखते हुए हिंदुस्‍तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) प्रबंधन ने तैयारियां तेज कर दी हैं। तीन से चार लाख नागरिकों के आने का अनुमान है। इसे देखते हुए रैली स्थल के आसपास वाहनों के लिए 24 पार्किंग बनाई जाएगी। लोगों के बैठने के लिए 60 हजार से ज्यादा कुर्सियां लगाई जाएंगी। आने वालों के खाने का भी एचयूआरएल प्रबंधन इंतजाम करने में जुटा है।

नौ लैब का उद्घाटन करेंगे पीएम

सात दिसंबर को प्रधानमंत्री खाद कारखाना आएंगे। वह एचयूआरएल के साथ ही अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) और बाबा राघवदास मेडिकल कालेज के रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर (आरएमआरसी) के नौ लैब का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री रैली स्थल से ही खाद कारखाना का शुभारंभ करेंगे और खाद बनने की प्रक्रिया को टेलीविजन स्क्रीन पर देखेंगे। प्रधानमंत्री खाद कारखाना परिसर और हवाई सर्वेक्षण कर सकते हैं। इसे देखते हुए तैयारियां तेज कर दी गई हैं।

एडीजी जोन की अध्‍यक्षता में हुई बैठक

गुरुवार को एचयूआरएल के प्रशासनिक भवन में अपर पुलिस महानिदेशक अखिल कुमार की अध्यक्षता में बैठक हुई। कमिश्नर रवि कुमार एनजी, एसएसपी डा. विपिन ताडा, जीडीए के उपाध्यक्ष प्रेमरंजन सिंह, एचयूआरएल के प्रबंध निदेशक एके गुप्ता, वीके दीक्षित, सुबोध दीक्षित आदि की बैठक में तैयारियों पर चर्चा की गई। यातायात व्यवस्था के लिए कंट्रोल रूम और जगह-जगह पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगाने का निर्णय लिया गया। मानबेला में तीन हजार बसों को खड़ा किया जाएगा। आयोजन स्थल पर मुख्य मंच पर प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री मौजूद रहेंगे। थोड़ी दूरी पर दूसरे मंच पर सांसद, विधायक और अन्य जनप्रतिनिधि रहेंगे।

स्कूल नहीं जाएंगे छात्र

सात दिसंबर को प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासन ने सभी स्कूलों को बंद रखने और कक्षाएं आनलाइन चलाने पर चर्चा हुई। छात्र घर पर रहकर पढ़ाई करेंगे। हालांकि इस पर अंतिम निर्णय नहीं हो सका है।

नो प्लास्टिक जोन रहेगा आयोजन स्थल

आयोजन स्थल को नो प्लास्टिक जोन घोषित कर दिया गया है। यहां प्लास्टिक का बैग कोई नहीं ले जा सकेगा। आपसी सामंजस्य के लिए छह दिसंबर को प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के एक दिन पहले तैयारियों का रिहर्सल होगा।

आपात स्थित के लिए बनेगा रूट

प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में तबियत खराब होने या आपात स्थिति के मद्देनजर बाबा राघवदास मेडिकल कालेज तक मरीजों को पहुंचाने के लिए रूट बनेगा। आपात स्थिति में पुलिसकर्मी कुछ ही देर में इस रूट को पूरी तरह खाली कर देंगे।

सिर्फ चार दिन बचे

प्रधानमंत्री के आने में सिर्फ चार दिन बचे हैं। इसे देखते हुए आयोजन स्थल पर दिन-रात बैरीकेडिंग, लोगों के बैठने की व्यवस्था, सेफ हाउस, पार्किंग, सफाई आदि तेजी से कराई जा रही है। सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) परिसर में प्रधानमंत्री का हेलीकाप्टर उतरेगा। यहां चार हेलीपैड तैयार किए जा रहे हैं। तीन पर प्रधानमंत्री के हेलीकाप्टर और एक पर दूसरा हेलीकाप्टर उतरेगा। यहां से थोड़ी दूरी पर रैली स्थल पर कार से प्रधानमंत्री पहुंचेंगे।

ट्रायल को लेकर चल रही तैयारी

प्रधानमंत्री के आने के पहले खाद कारखाना में नीम कोटेड यूरिया बनाने का ट्रायल होगा। इसके लिए तैयारियां तेजी से चल रही हैं। मशीनों को दुरुस्त किया जा रहा है। प्रधानमंत्री के हाथों शुभारंभ के बाद तकरीबन छह घंटे खाद कारखाना चलाया जाएगा। इन छह घंटों में 21 हजार से ज्यादा बोरी यूरिया तैयारी होगी। एक बोरी में 45 किलोग्राम यूरिया होगी। यूरिया को रेलवे के रैक तक पहुंचाने की भी तैयारी है। परिसर में पहले ही रेल लाइन बिछाई जा चुकी है। मालगाड़ी परिसर से ही यूरिया की रैक लेकर गंतव्य को रवाना होगी।

350 को प्रत्यक्ष, दो हजार को अप्रत्यक्ष रोजगार

नगर विधायक डा. राधा मोहन दास अग्रवाल ने गुरुवार को खाद कारखाना का निरीक्षण किया। उन्होंने कोरोना संक्रमण के बाद भी रिकार्ड समय में खाद कारखाना का निर्माण पूरा कराने पर अफसरों की तारीफ की। एचयूआरएल के एमडी एके गुप्ता ने नगर विधायक को बताया कि जगदीशपुर-हल्दिया पाइप लाइन से गैस ली जाएगी। नगर विधायक ने बताया कि खाद कारखाना में 350 लोगों को प्रत्यक्ष और दो हजार से ज्यादा को अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। इसके अलावा तकरीबन तीन सौ ट्रक आपरेटर काम पाएंगे। यूरिया बिक्री नेटवर्क से भी हजारों लोग जुड़ेंगे। अफसरों ने नगर विधायक को बताया कि खाद कारखाना बिजली के मामले में आत्मनिर्भर होगा। प्रधानमंत्री के हाथों शुभारंभ के बाद तकरीबन छह घंटे यूरिया का उत्पादन होगा। इसके बाद 30-45 दिन के बाद व्यावसायिक उत्पादन शुरू हो जाएगा। इस दौरान राजीव रंजन अग्रवाल, सतसुकृत, अजय सिंह संचू, विनय राय, अजय ओझा, बाबू लाल पासी आदि मौजूद रहे।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट