कुशीनगर: दो दिवसीय जनपदीय बेसिक बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का सोमवार को बुद्धा पार्क रवींद्रनगर में डीएम एस राजलिगम द्वारा शुभारंभ किया गया। प्रतियोगिता में शामिल बच्चों ने शानदार प्रदर्शन कर लोगों का मन मोह लिया। मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण करने के पश्चात मंच से मार्च पास्ट की सलामी लेने के बाद आयोजन की शुरुआत हुई।

डीएम ने कहा कि पुरानी सोच बदलते हुए खेल को अब अवरोध के रूप में नहीं बल्कि अवसर के रूप में लेकर आगे बढ़ना होगा। खेल से एकता की भावना के साथ शारीरिक विकास भी होता है। बीएसए ने कहा कि आयोजन का यह 26 वां वर्ष है। विभिन्न तहसील के बच्चों द्वारा पीटी का प्रदर्शन किया गया। इसमें तहसील हाटा विजेता व कसया उप-विजेता रहा। 600 मीटर दौड़ जूनियर बालक वर्ग में कसया तहसील के राहुल विजेता व तमकुही तहसील के करन उप विजेता रहे। इसी तरह 400 मीटर दौड़ बालक जूनियर वर्ग में सुकरौली के इंद्रजीत विजेता व हाटा के अश्वनी उप-विजेता बने। 600 मीटर दौड़ जूनियर बालिका वर्ग में दुदही की सरिता विजेता व कसया की सब्बो खातून उप-विजेता रहीं। 400 मीटर दौड़ बालिका वर्ग जूनियर में कसया की सब्बो खातून विजेता रहीं। 50 मीटर दौड़ प्राथमिक बालक वर्ग में हाटा के विष्णु विजेता व विशुनपुरा के सिकंदर उप-विजेता रहे। 50 मीटर दौड़ प्राथमिक बालिका वर्ग में रामकोला की शालिनी विजेता व विशुनपुरा की वंदना उप-विजेता रहीं। 100 मीटर दौड़ प्राथमिक बालिका वर्ग में विशुनपुरा की वंदना विजेता व रामकोला की शालिनी उप-विजेता रहीं। बैडमिटन बालक वर्ग जूनियर में कसया के लक्ष्मण वर्मा तथा जूनियर बालिका वर्ग में कप्तानगंज की साधना विजेता रहे। 200 मीटर दौड़ बालिका वर्ग जूनियर में कसया की सौदा खातून विजेता व तमकुही की सरिता उप-विजेता रहीं।

संचालन हरे कृष्ण पाण्डेय व रविद्र नारायण पांडेय द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। नोडल अधिकारी अजय कुमार तिवारी, खेल सचिव देवमुनि वर्मा, बीईओ सत्य प्रकाश कुशवाहा, अनिल मिश्रा, डीसी चंद, अनूप गुप्त, विजय गुप्त, अंकिता सिंह, आशीष मिश्र, अमित सिंह, सत्येंद्र पांडेय, जय प्रकाश मौर्य, रामसुयश वर्मा, इंद्रजीत मणि त्रिपाठी, जिला व्यायाम शिक्षक अनिल मिश्र, जिला व्यायाम शिक्षिका रेनू बाला सिंह आदि उपस्थित रहे। मानदेय नहीं मिलने से अनुदेशकों ने किया प्रतियोगिता का बहिष्कार

दो दिवसीय जनपदीय बेसिक बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता में पहुंचे अनुदेशकों ने पांच माह से मानदेय न मिलने का आरोप लगाते हुए प्रतियोगिता का बहिष्कार किया। खेल अनुदेशक संघ के जिलाध्यक्ष पवन, रमेश, विनय उपाध्याय, जागृति पाण्डेय, सूरजीत सिंह, सीमा सिंह, भाष्कर जायसवाल आदि विरोध करने वालों में शामिल रहे।

Edited By: Jagran