गोरखपुर, जेएनएन। महराजगंज जिले के निचलौल स्थित मदरसे में शिक्षा लेने आए पांच बच्‍चों ने जब वापस घर जाने को कहा तो मदरसा शिक्षक ने मारपीट कर उन्‍हें बंधक बना लिया।  शिकायत पर पुलिस टीम के साथ पहुंचे इंस्पेक्टर ने बंधक बनाए गए बच्‍चों को मुक्त कराते हुए आरोपित के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

बिहार के हैं बच्‍चे

बिहार के बेतिया जिले के थाना सिकटा ग्राम झुमका निवासी नौशाद निचलौल मदरसा का छात्र है। वह गांव के पांच बच्‍चों शमीम, नजरुद्दीन, अजिरुद्दीन, सफदर व इरफान को तालीम के लिए अलकुआन मदरसे में लेकर आया। निचलौल में पांचों बच्‍चों को मन नहीं लगा। सभी बच्‍चे घर वापस जाना चाह रहे थे। नौसाद ने इसकी जानकारी मदरसा शिक्षक हाफिज गौसुल आलम को दी।

पहले पीटा, फ‍िर बंधक बनाया

आरोप है कि इस बात को लेकर शिक्षक  नौशाद पर बिगड़ गए और उसकी पिटाई कर बाहर खदेड़ दिया। यहां तक कि पांच बच्‍चों को पिटाई करने के बाद बंधक बना  लिया। इसके बाद नौशाद सीधे थाने पहुंचा और पुलिस को आपबीती सुनाई। प्रभारी निरीक्षक इंस्पेक्टर गजेंद्र कुमार राय फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और सभी बच्‍चों को मुक्त कराया।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस