गोरखपुर (जेएनएन)। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दो दिवसीय गोरखपुर दौरे के दूसरे दिन जिला अस्पताल में समारोहपूर्वक डायलिसिस यूनिट का लोकार्पण किया। 10 बेड की इस यूनिट के लोकार्पण के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर बेहद गंभीर है। इसके तहत प्रथम चरण में प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में किडनी रोगियों के लिए मुफ्त डायलिसिस सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इसी क्रम में अन्य अस्पतालों में भी यह सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि जिला अस्पताल में हर दो दिन में 60 किडनी रोगियों को इसका लाभ मिलेगा। महीने में 720 रोगी इस सुविधा से लाभान्वित हो सकेंगे। उन्होंने कहा कि जिला अस्पतालों में यह सुविधा किडनी रोगियों की बढ़ती संख्या को चलते देने का फैसला किया गया है। उन्होंने बताया कि मरीजों का चयन समस्त औपचारिकता के पूरा होने के बाद आनलाइन व्यवस्था के तहत सीएमएस द्वारा किया जाएगा। स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही आयुष्मान भारत योजना की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके तहत छह परिवारों को पांच लाख के स्वास्थ्य बीमा से कवर करने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। इसे लेकर विशेष सर्वे भी कराया जा रहा है जिससे कि कोई भी पात्र व्यक्ति छूटने न पाए। आयुष्मान भारत के तहत उत्तर प्रदेश में भी एक करोड़ 18 लाख पात्र व्यक्ति लाभान्वित होने जा रहे हैं।

पीपीपी माडल में चलाई जा रही यूनिट

जिला अस्पताल में शुरू हुई 10 बेड की डायलिसिस यूनिट पीपीपी माडल पर चलाई जा रही है। प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक आरके गुप्ता ने बताया कि यूनिट का संचालन वाराणसी की सेवा प्रदाता कंपनी हेरीटेज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। इस निशुल्क सेवा का संचालन ट्रायल के तौर पर पहले से ही किया जा रहा है।

हियुवा कार्यकर्ता के घर भी गए सीएम

डायलिसिस यूनिट के लोकार्पण के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता राम भुआल कुशवाहा के घर गए और उनके पिता को श्रद्धाजंलि दी। चार दिन पहले राम भुआल के पिता का निधन हो गया था।

Edited By: Pradeep Srivastava