गोरखपुर, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर के टेराकोटा, भदोही की कालीन, वाराणसी की साड़ी, आजमगढ़ की पाटरी, देवरिया के सजावटी समान, बस्ती के काष्ठ शिल्प जैसे स्थानीय उद्योगों को अधिक से अधिक बढ़ावा देने की बात कही है। इस विषय में उन्होंने गुरुवार को सीवान जाने से पहले गोरखनाथ मंदिर स्थित अपने आवास के बैठक कक्ष में दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.राजेश सिंह और अपने आर्थिक सलाहकार डा. केवी राजू से विस्तार से चर्चा की।

मुख्यमंत्री ने स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए इनका निर्माण करने वाले छोटे उद्योगों को बैंकिंग क्रेडिट सिस्टम से जोडऩे की जरूरत पर भी जोर दिया। उन्होंने कुलपति और आर्थिक सलाहकार को सलाह दी कि वह बैंकर्स और निवेशकों को भी अपने वेबिनार में आमंत्रित करें, जिससे उनके साथ स्थानीय उद्योगों के विकास के विषय में सार्थक चर्चा की जा सके। बैठक के दौरान प्रो.ङ्क्षसह और डा.राजू ने मुख्यमंत्री को पूर्वांचल विकास बोर्ड की ओर से 27-28 नवंबर को आयोजित दो दिवसीय वेबिनार के विषय में भी बताया, जिसमें 'पूर्वांचल के विकास: मुद्दे, रणनीतियां और भावी दिशाÓ विषय पर चर्चा की जानी है। कुलपति ने मुख्यमंत्री को बताया कि पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकासशील और संसाधनयुक्त जिलों के विकास का समग्र रोडमैप तैयार किया जा रहा है। इसके लिए विश्वविद्यालय परिसर में पूर्वांचल विकास बोर्ड का कार्यालय स्थापित किया गया है। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार के योजना विभाग और गोरखपुर विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में वेबिनार का आयोजन किया जा रहा है। इस वेबिनार में प्रदेश और विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों को व्याख्यान देने के लिए आमंत्रित किया गया है।

वेबिनार में तैयार होगा पूर्वांचल के विकास का ब्लू प्रिंट 

कुलपति ने बताया कि वेबिनार का आयोजन आनलाइन और आफलाइन दोनों मोड में किया जाएगा। इसमें पूर्वांचल के विकास की पुख्ता योजना का ब्लूङ्क्षप्रट तैयार किया जाएगा।

मुख्यमंत्री के संबोधन से शुरू होगा वेबिनार

कुलपति प्रो.राजेश ङ्क्षसह ने बताया कि 'पूर्वांचल के विकास: मुद्दे, रणनीतियां और भावी दिशाÓ विषय पर आयोजित वेबिनार का शुभारंभ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के संबोधन से होगा। 27 नवंबर से होने वाले दो दिवसीय वेबिनार में मुख्य सचिव के अलावा अतिरिक्त मुख्य सचिव भी हिस्सा लेंगे। वेबिनार में विभिन्न विभागों के प्रमुख सचिव पूर्वांचल के विकास के बारे में उत्तर प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं और नीतियों से सम्बंधित अपने विचार प्रस्तुत करेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस