गोरखपुर, जागरण संवाददाता। युवाओं के विराेध और धरना-प्रदर्शन को देखते हुए सरकार अग्निपथ योजना को लेकर उन्हें तरह-तरह से जागरूक करने की तरकीब अपना रही है। इसी क्रम में एक 'अग्निपथ' नाम से बुकलेट तैयार की गई है, जिसमें थल, वायु व नौ सेना में अग्निवीरों की भर्ती और उनके औचित्य का ब्याेरा दिया गया है। यह भी बताया गया है कि किस तरह से यह योजना देश व युवा दोनों के लिए लाभकारी है।

दो भाषाओं में तैयार की गई बुकलेट

बुकलेट अंग्रेजी और हिंदी दोनों भाषा में तैयार की गई है। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने इस बुकलेट पर अपनी वेबसाइट पर अपलोड भी कर दी है। अन्य बोर्ड की साइट पर भी अपलोड करने की प्रक्रिया चल रही है। सीबीएसई की वेबसाइट पर इस बुकलेट को अपलोड करने की वजह भी बताई जा रही है। बुकलेट के जरिये कक्षा नौ से 12 तक के बच्चों को जागरूक करने का लक्ष्य है क्योंकि अग्निवीर योजना के लाभ उन्हें ही मिलना है। ऐसा करने के पीछे मकसद यह है कि योजना को लेकर विद्यार्थी किसी के बहकावे में न आएं।

बुकलेट में दी गई है यह जानकारी

'अग्निपथ' बुकलेट में इस योजना से भर्ती का माडल और सशस्त्र बलों में सेवा करने का सुअवसर बताया गया है। सशस्त्र बल के आधार पर युवाओं को सक्षम बनाने की जानकारी दी गई है। भर्ती का आधार और चार साल के कार्यकाल में मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी दी गई है।

सीबीएसई की वेबसाइट पर 'अग्निपथ' बुकलेट अपलोड की गई है। बोर्ड से जुड़े स्कूलों के बच्चों को इसे ध्यानपूर्वक पढ़ना चाहिए। अगर बोर्ड की ओर से बच्चों को इसके लिए जागरूक करने का कोई निर्देश मिलता है तो पूरी प्रतिबद्धता के साथ किया जाएगा। - अजय शाही, निदेशक, आरपीएम एकेडमी।

अग्निपथ योजना पर बोले सेना के पूर्व अफसर

सरकार ने इस योजना को बहुत सोच-समझ कर लागू करने का निर्णय लिया है। ऐसे में फिलहाल हानि-लाभ की दृष्टि से योजना को सिरे से खारिज नहीं करना चाहिए। योजना का क्रियान्वयन होगा तो देशहित और व्यक्तिहित में उसमें कुछ जरूरी परिवर्तन में भी किए जा सकते हैं। - कर्नल ईश्वर चन्द (सेवानिवृत्त)।

यह योजना कई देशों में पहले से लागू है। योजना में चार साल में देशभक्ति का पाठ पढ़ाकर एक अनुशासित नागरिक तैयार करना चाहती है सरकार। अग्निवीर नागरिक जीवन भर देश के लिए समर्पित रहेंगे। इसके अलावा चार साल में उन्हें जो धन मिलेगा, उससे अपना करियर संवार सकते हैं। - फ्लाइंग लेफ्टिनेंट वाई सिंह (सेवानिवृत्त)।

अग्निपथ योजना देशहित और युवा हित में तैयार की गई योजना। जो युवा इसे लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं, वह इसकी खूबियों को समझ नहीं पा रहे। योजना के अग्निवीरों को चार वर्ष में देश सेवा का अवसर तो मिलेगा ही। इस दौरान जो धन मिलेगा, वह उनके आगे की योजना में काम आएगा। - कर्नल सीपी सिंह (सेवानिवृत्त)।

इससे देश को अनुशासित नागरिक मिलेंगे। सेना भर्ती को लेकर जो धंधेबाज सक्रिय है, उनकी धंधेबाजी बंद हो जाएगी। अग्निवीर युवा चार साल में जिंदगी की कठिनाइयों रुबरू हो जाएंगे, जो भविष्य में बेहद उपयोगी साबित होगा। व मानसिक और शारीरिक रूप से मजबूत होंगे। लीडरशिप विकसित होगी - कर्नल एसपी सिंह (सेवानिवृत्त)।

Edited By: Pradeep Srivastava