गोरखपुर, जेएनएन। सहजनवां क्षेत्र के डुमरी गांव में बादामी देवी की मौत के मामले में पुलिस ने सास-ससुर सहित चार के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। सास को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। बाकी तीन अभियुक्‍त फरार हैं। उन सभी की पुलिस तलाश कर रही है। 

घर में छत के कुंडे से लटकता मिला था विवाहिता का शव

डुमरी निवासी उमेश चंद की पत्नी बदामी देवी की शुक्रवार को मौत हो गई थी। उनका शव घर में छत के कुंडे से लटकता मिला था। पुलिस के पहुंचने पर परिजनों ने अज्ञात कारणों से उनके खुदकशी करने का दावा किया था।

मृतका के भाई ने लगाया था ससुरालियों पर आरोप

दूसरी तरफ बांसगांव क्षेत्र के जमौली निवासी बादामी देवी के भाई पन्नेलाल ने ससुराल के लोगों पर मारने-पीटने के बाद गला घोंटकर उनकी हत्या करने का आरोप लगाया था। इस संबंध में उन्होंने मृतका की सास इसरावती देवी, ससुर मोती, देवर श्रवण तथा ननद पूजा के विरुद्ध नामजद तहरीर दी थी।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोटकर हत्या करने की हुई पुष्टि

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मारपीट करने और गला घोंटकर हत्या करने की पुष्टि होने के बाद सहजनवां पुलिस ने चारों आरोपितों के विरुद्ध नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया है। सहजनवां थानेदार ने बताया कि सास को हिरासत में लिया गया है। तीन अन्य आरोपितों की तलाश की जा रही है।

पति घर पर नहीं था मौजूद

बता दें कि उमेश और बादामी देवी की शादी 12 साल पहले हुई थी। सात व पांच वर्ष के उनके दो बच्चे हैं। उमेश बाहर रहकर कमाते हैं। बादामी की मौत ऐसे समय हुई जब पति घर पर मौजूद नहीं था। पुलिस के अनुसार अभी तक इसरावती ने कुछ नहीं बताया है। बाकी लोगों की गिरफ्तारी के बाद ही पता चल पाया कि बादामी की हत्‍या क्‍यों की गई थी। पुलिस अभियुक्‍तों की तलाश में लगी हुई है। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस