गोरखपुर, जेएनएन। लखनऊ से सवारी लेकर गोरखपुर जा रही उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम के कैसरबाग डिपो की बस नंबर यूपी 78 एसएन 6725 रविवार तड़के साढ़े चार बजे हाईवे के टेमा रहमत चौराहे पर आगे चल रही ट्रक से टकरा गई। आठ यात्री घायल हुए हैं, जिन्हें पुलिस ने जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। यातायात व्यवस्था सामान्य है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि टेमा रहमत चौराहे पर स्पीड ब्रेकर के कारण आगे चल रहे ट्रक के चालक ने जोर से ब्रेक लगाया जिसके कारण पीछे आ रही बस आगे चल रही ट्रक से टकरा गई। बस में बैठे 8 लोग घायल हो गए। सूचना पर चौकी प्रभारी बलराम पांडेय दुर्घटना स्थल पर पहुंचे और सभी घायलों को एम्बुलेंस से जिला अस्पताल भेज दिया। दुर्घटनाग्रस्त वाहन को सड़क से  हटाया गया।

यह हुए घायल

राजेन्द्र प्रसाद निवासी मरुवा भतौर रुद्रपुर जिला देवरिया।

प्रमोद कुमार निवासी राघोपुर सिकंदरपुर शाहजहांपुर।

अवनीश कुमार निवासी खिरिया रत्न दरिया राजीव शाहजहांपुर। 

अशोक कुमार निवासी राघोपुर सिकंदरपुर निगोही शाहजहांपुर

रघुराम निवासी कर्मबीर निगोही शाहजहांपुर।

रेनी निवासी रुद्रपुर चौक उधमनगर उत्तराखंड।

गोरखपुर से सिद्धार्थनगर जा रही बस पलटी, एक की मौत

उधर, गोरखपुर से सिद्धार्थनगर आ रही निजी सवारी बस शनिवार की रात उसका बाजार थानाक्षेत्र अंतर्गत कूरा नदी पर बने पुल से 50 मीटर आगे अनियंत्रित होकर सड़क के किनारे पलट गई। घटना में एक महिला की मौत हो गई जबकि आधा दर्जन सवारी घायल हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार गोरखपुर से आ रही बस की गति काफी तेज थी। बस पलटने के बाद सवारियों में चीख पुकार मच गई। आवाज सुनकर आसपास क़े लोग एकत्रित हो गए और घायलों क़ो निकालने का प्रयास करने लगे। पर यात्री बस में फंसे हुए थे। पुलिस क़ो स्थानीय नागरिकों की मदद से बड़ी मशक्कत के बाद सभी घायलों को निकालने में सफलता मिली। इसमें से एक महिला मरी हुई थी। जबकि एक बच्चे सहित आधा दर्जन घायल थे। घायलों को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। बस में कुल सात लोग सवार थे। घटना के बाद बस चालक व खलासी मौके से फरार हो गए। घटना की जानकारी होते ही जिलाधिकारी दीपक मीणा व पुलिस अधीक्षक राम अभिलाष त्रिपाठी भी मौके पर पहुंच गए व स्थिति का जायजा लिया। 

मृतका की हुई पहचान 

बस दुर्घटना में  मृतका की पहचान जोगिया थानाक्षेत्र के टडिया बाजार निवासिनी अकाला देवी पत्नी रामसेवक (55) के रूप में हुई। दो वर्ष पूर्व उसके ट्रक चालक पति की मृत्यु भी दुर्घटना में हो गई थी। वह गुजरात से कुछ कागजात लेकर अपने गांव आ रही थी। गोरखपुर तक ट्रेन से आने के बाद वह बस में बैठी थी। 

ये हुए दुर्घटना में घायल 

बस दुर्घटना में जो आधा दर्जन लोग घायल हुए उसमें उसका बाजार थानाक्षेत्र के भिटिया निवासी प्रेमकांत चौबे (39), उनकी पत्नी पूनम चौबे (30) व पुत्र देवांश (5), कपिलवस्तु थानाक्षेत्र के बजहा निवासी तरीक हुसैन व रसीमा सम्मिलित हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप