गोरखपुर, जेएनएन। पखवारा भर पूर्व लखीमपुरखीरी जिले से चोरी किया गया आठ लाख रुपये का गुड़ गुरुवार को गगहा थाना पुलिस ने बरामद कर लिया। गुड़ बरेली जिले के व्यापारी संदीप अग्रवाल का है। गुड़ बीएसएफ जवान पंचदेव यादव पुत्र बिहारी यादव निवासी सरार मजगांवा थाना झंगहा ने चोरी  की थी। वह यहां अपने दो साथियों की मदद से गुड़ की बिक्री कर रहा था। ट्रक व चालक अभी नहीं बरामद हो सका है। पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।

लखीमपुरखीरी से चोरी हुआ था बरेली के व्यापारी का गुड़

बरेली के व्यापारी संदीप अग्रवाल गोरखपुर सहित इर्द-गिर्द जिलों में बिक्री के लिए लखीमपुर से गुड़ भेजते हैं। करीब पखवारा भर पूर्व उन्होंने बिहार के कटिहार में एक व्यापारी के यहां गुड़ भेजने के लिए लखीमपुर खीरी के एक ट्रांसपोर्टर के यहां बुकिंग की। लखीमपुर खीरी के मैकलगंज से गुड़ की खेप रवाना होने के दो दिन बाद उन्होंने कटिहार के संबंधित व्यापारी के यहां संपर्क साधा तो पता चला कि अभी वहां गुड़ की खेप नहीं पहुंंची है। उन्होंने ट्रांसपोर्टर से संपर्क किया तो पता चला कि जिस नंबर प्लेट से ट्रक कटिहार के लिए रवाना हुई थी, वह तो अभी लखीमपुर खीरी में ही मौजूद है। सीसीटीवी फुटेज आदि के जरिये यह स्पष्ट हो गया कि ट्रक पर नंबर प्लेट बदलकर करीब आठ लाख रुपये की गुड़ उठाया गया है।

व्‍यापारी ने खुद की जानकारी, पुलिस को दी सूचना

व्यापारी ने अपने स्रोतों से गुड़ की तलाश शुरू कर दी। पता चला कि कुछ लोग गगहा क्षेत्र में गुड़ की बिक्री कर रहे हैं। वह गुड़ को आधी कीमत व उधारी पर भी देने को तैयार हैं। खरीदारों के माध्यम व्यापारी ने गुड़ देखा। वह गुड़ देखते ही पहचान गया। उसकी सूचना पर गगहा पुलिस ने सहाबुद्दीन आलम निवासी सरइया थाना चौरीचौरा को गुड़ की बिक्री करते हुए पकड़ा। दबाव देने पर उसने बताया कि बड़े पैमाने पर गुड़ चौरीचौरा थाना क्षेत्र के सोनबरसा में एक गोदाम में रखा गया है। पुलिस ने वहां दबिश दी तो पंचदेव सहित कुशीनगर जिले के अहिरौली बाजार निवासी विशुनपुर कैथवलिया के सूर्य नारायण यादव को भी गिरफ्तार किया। गोदाम से पुलिस ने 36 क्विंटल गुड़ व 146 क्विंटल गीला गुड़ बरामद किया। इसकी कीमत सात लाख रुपये आंकी जा रही है। पुलिस ने बताया कि आरोपितों ने करीब एक लाख रुपये की गुड़ बेच दी।

ट्रक का नंबर प्लेट बदलकर बीएसएफ जवान ने चुराया था गुड़

गुरुवार को प्रेसवार्ता में घटना के पर्दाफाश की जानकारी देते हुए एसपी साउथ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि खुद बीएफएफ जवान बताने वाला पंचदेव ही इस चोरी का मुख्य मास्टरमाइंड है। उसने ही लखीमपुर के ट्रांसपोर्टर को फोन करके बताया कि वह बहराइच में सामान उतारने आया था। अब खाली है और ट्रक लखीमपुर के एक ऐसे ट्रक का नंबर प्लेट लगाया, जो लगातार ट्रांसपोर्टर के पास से सामान उठाते थे। ट्रांसपोर्टर के पास से गुड़ उठाकर उसने रास्ते से ही ट्रक से गुड़ उतार लिया। एसपी साउथ ने कहा कि अभी इसमें और लोग भी संलिप्त हो सकते हैं। इसकी छानबीन की जा रही है। बीएसएफ जवान हेराफेरी की अन्य मामलों में भी शामिल हो सकता है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021