गोरखपुर (जेएनएन)। मुजफ्फरपुर के बाल संरक्षण गृह सेक्स स्कैंडल के मामले के मुख्य आरोपित बृजेश ठाकुर की तबीयत कल ट्रेन में बिगड़ गई। भागलपुर से पटियाला सेंट्रल जेल में शिफ्ट किए जा रहे बृजेश ठाकुर को पुलिस कल आम्रपाली एक्सप्रेस से लेकर जा रही थी, इसी बीच गोरखपुर से पहले ही उसकी तबीयत खराब हो गई। रेलवे के चिकित्सकों ने बृजेश को गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर प्राथमिक उपचार दिया। कुछ देर आराम करने के बाद उसको अमृतसर रवाना कर दिया गया।

भागलपुर से पटियाला सेंट्रल जेल  शिफ्ट हो रहे बृजेश ठाकुर की आम्रपाली एक्सप्रेस में तबीयत बिगड़ गई। सूचना पर गोरखपुर स्टेशन पर रेलवे के चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार किया गया। आराम मिलने के बाद उसे अमृतसर के लिए रवाना कर दिया गया। कल आम्रपाली एक्सप्रेस रेलवे स्टेशन गोरखपुर में प्रवेश कर रही थी। उसी समय स्टेशन प्रबंधन को कंट्रोल से सूचना मिली कि कोच नंबर एस थ्री की बर्थ नंबर 34 के यात्री को दिल का दौरा पड़ा है।

स्टेशन प्रबंधन ने रेलवे चिकित्सक डॉ. दिलीप कुमार की टीम को बुला लिया। ट्रेन के गोरखपुर पहुँचने पर चिकित्सकों की टीम ने यात्री का इलाज किया। इलाज के बाद ट्रेन रवाना हो गयी। बृजेश ठाकुर के साथ भागलपुर सेंट्रल जेल के डिप्टी जेलर राकेश सिंह और एस्कॉर्ट में आठ जवान भी थे। सूत्रों के अनुसार उसे पेशी पर ले जाया जा रहा था। उसने रास्ते में दिल का दौरा पडऩे की शिकायत की थी। देर रात तक रेलवे प्रशासन इस खबर को दबाये रहा। रात में इस खबर की चर्चा होने पर भी कोई जिम्मेदार मुंह खोलने को तैयार नहीं हुआ। 

Posted By: Dharmendra Pandey