जागरण संवाददाता, गोरखपुर :

पूर्वाचल में महामारी का रूप ले चुके दिमागी बुखार से निपटने और इसके प्रकोप को काबू करने में व्यवहार परिवर्तन बेहद उपयोगी साबित होगा। दैनिक जागरण पहल और आरबी इंडिया के संयुक्त प्रयास से शुरू हुई 'डेटाल बनेगा स्वच्छ इंडिया की व्यवहार परिवर्तन मुहिम' के तहत कई गांवों में नुक्कड़ नाटक कर लोगों को स्वच्छता के प्रति प्रेरित किया गया। इस दौरान लोगों को शौचालय की उपयोगिता के बारे में भी जानकारी दी गई।

डेटाल बनेगा स्वच्छ इंडिया की व्यवहार परिवर्तन मुहिम में इस वर्ष गोरखपुर के खजनी, ब्रह्मापुर, पिपरौली, सहजनवां, सरदार नगर और गोला ब्लाक के 50 राजस्व ग्राम को शामिल किया गया है। इस मुहिम में दिमागी बुखार के कारणों और लक्षणों के विषय में भी लोगो को जानकारी दी जाएगी ताकि नवजात बच्चों और समुदाय को इस महामारी के प्रकोप से बचाया जा सके। व्यवहार परिवर्तन मुहिम की शुरूआत करते हुए बुधवार को खोराबार के जंगल सिकरी, जंगल रामगढ़ चौरी, रायगंज, अमहिया, गहिरा और सरदार नगर विकास खंड के शत्रुघ्नपुर में नुक्कड़ नाटक किया गया। गुरुवार को भी सरदारनगर ब्लाक के डुमरी खास, बाल बुजुर्ग, भाऊपुर, लक्ष्मणपुर और ब्रह्मापुर ब्लाक के राजधानी, राजी जगदीशपुर गावों में नुक्कड़ नाटक आयोजित हुआ। मुंबई से आए रेड पांडा ग्रुप के कलाकारों ने शौचालय की अहमियत को उजागर करते हुए उसके रखरखाव और सही प्रयोग की जानकारी दी। इस दौरान बताया गया कि घर के पास पानी इकट्ठा न होने दें वरना इससे मच्छर पैदा होंगे, जो दिमागी बुखार की वजह बनेंगे। कार्यक्रम में ग्राम प्रधान, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के साथ बड़ी संख्या में ग्रामीण शामिल हुए। राजुल गौड़, परशुराम वर्मा, विकास त्रिपाठी, संतोष विश्वकर्मा, सपना मिश्रा, आरती दुबे, हर्षित गुप्ता ने नाटक को अपने अभिनय से जीवंत किया। इन कलाकारों ने मौजूद लोगों को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई। इस अवसर पर जागरण पहल के मोबिलाइजर कुंज बिहारी, भानु प्रताप सिंह, केदार नाथ सिंह और विजय कश्यप ने कार्यक्रम को आदोलन की तरह चलाने की अपील की।

By Jagran