गोरखपुर, जेएनएन। एम्स में प्रथम संस्थान निकाय की बैठक में अस्‍पताल जल्‍द शुरू करनेे और ओपीडी का संचालन व कोविड 19 वार्ड के निर्माण पर चर्चा हुई। एम्स के अध्यक्ष अंबरीश मित्तल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सदर सांसद रवि किशन व बांसगांव सांसद कमलेश पासवान सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे। सभी ने एम्स में अस्पताल जल्द शुरू करने पर जोर दिया। साथ ही ओपीडी संचालन व कोविड वार्ड के निर्माण पर विस्तार से चर्चा हुई। कुछ सदस्य बैठक में नहीं आ पाए थे, उनसे वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की गई। सांसद रवि किशन ने एम्स का निरीक्षण कर जल्द से जल्द भवन निर्माण पूरा करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अगर एम्स के निर्माण में दिक्कतें आ रही हैं, तो इसकी जानकारी दें। मामले को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष रखा जाएगा। 

निर्माण कार्य में देरी पर सांसद ने जताई नाराजगी

इस बीच सांसद ने काम करा रही संस्था पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जल्द से जल्द काम पूरा करने का निर्देश दिया। सांसद कमलेश पासवान ने कहा कि कहा जल्द से जल्द एम्स में सौ बेड का कोरोना वार्ड तैयार किया जाए, ताकि संक्रमित मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जा सके। इस बीच सांसद रवि किशन ने वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए निकाय सदस्यों से वार्ता कर बैठक पर सहमति भी जताई। 

बैठक में यह रहे शामिल

बैठक में करीब 18 बिंदुओं पर चर्चा की गई। संचालन एम्स की निदेशक डॉ. सुरेखा किशोर ने किया। इस अवसर पर डिप्टी डायरेक्टर डॉ. अश्वनी माहौर, डॉ. अशोक कुमार, डॉ. आरती लाल चंदानी, डॉ. गणेश शंकर विद्यार्थी, ब्लॉक प्रमुख चरगांवा सुनील पासवान आदि उपिस्थत थे।

प्राइवेट लैब संचालक कोरोना पाजीटिव की तत्काल सीएमओ को दें सूचना : मंडलायुक्त

उधर, मंडलायुक्त जयंत नार्लिकर ने सभी प्राइवेट लैब संचालकों को निर्देशित किया है कि कोरोना पाजीटिव की सूचना संबंधित मुख्य चिकित्साधिकारी एवं कंट्रोल रूम को अनिवार्य रूप से दें। साथ ही शासन द्वारा निर्धारित प्रक्रिया का अनिवार्य रूप से पालन करें। उन्होंने जिला सर्विलांस अधिकारी व अपर मुख्य चिकित्साधिकारी एनके पांडेय को निर्देशित किया कि प्राइवेट लैब संचालकों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं को सुनें और नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करें। कान्टेक्ट ट्रेसिंग को ठीक ढंग से करने पर बल देते हुए कहा कि यदि कान्टेक्ट ट्रेसिंग को सही और तेजी से किया जाएगा तो कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में मदद मिलेगी। आयुक्त सभागार में स्वास्थ्य विभाग के अपर निदेशक स्वास्थ्य, मंडल के सभी जिलों के जिला सर्विलांस अधिकारी व प्राइवेट लैब के संचालकों के साथ बैठक करते हुए जिला सर्विलांस अधिकारियों एवं जिला कार्यक्रम प्रबंधक एनएचएम को चेतावनी दी कि यदि कोरोना संक्रमण के लिए शासन द्वारा निर्धारित पोर्टल पर डाटा इंट्री समय से नहीं होगी तो संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी। बैठक में जिला कार्यक्रम प्रबंधक एनएचएम, समस्त डाटा आपरेटर आइडीएसपी व नोडल अधिकारी बीआरडी उपस्थित थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस