गोरखपुर (जेएनएन)। उप जिलाधिकारी कार्यालय में रविवार को एसडीएम आइएएस अधिकारी कृतिका ज्योत्सना से छेड़छाड़ और चुनाव कार्य में बाधा डालने के मामले में भाजपा नेता अशोक कुमार उर्फ साधू यादव के खिलाफ नायब तहसीलदार ने मुकदमा दर्ज कराया गया है। हालांकि भाजपा नेता ने आरोपों को निराधार बताया है। नायब तहसीलदार दीपक कुमार गुप्ता ने धनघटा थाना में दिए तहरीर में कहा कि वह एसडीएम कृतिका ज्योत्सना के साथ बैठकर चुनाव संबंधी कार्य पूरा करा रहे थे। दोपहर बाद करीब दो बजे भाजपा नेता एसडीएम कार्यालय में चुनाव कार्यालय खोलने की अनुमति लेने आए।

यह भी पढ़ें- आइएएस अशोक खेमका ने अब आधार कार्ड प्रणाली पर उठाए सवाल

एसडीएम ने व्यस्तता के कारण उन्हें थोड़ी देर बाद आने को कहा। यह बात भाजपा नेता को नागवार लगी। वह कार्यालय में अभद्रता करने लगे। उसी समय पहुंचे बार एसोसिएशन के अध्यक्ष अरविंद श्रीवास्तव ने भी भाजपा नेता का विरोध किया। मामला बढ़ता देख तहसील में काफी लोग जुट गए। भीड़ देख भाजपा नेता एसडीएम व उन्हें धक्का देकर फरार हो गया। एसडीएम कृतिका ज्योत्सना का कहना है कि आरोपी कार्यालय में जबरन घुसकर निर्वाचन कार्य में बाधा पहुंचा। अभद्रता व्यवहार करते हुए जानमाल की धमकी दी, जिसके कारण उस पर मुकदमा दर्ज करवाया गया है।

यह भी पढ़ें- खेमका ने अब किया एलटीसी घोटाले का खुलासा, बड़े अफसर निशाने पर

यह भी पढ़ें- आइएएस अफसरों पर शिकंजा, सरकार ने मांगा पिछले साल की संपत्ति का ब्योरा

Posted By: Ashish Mishra