गोरखपुर, जेएनएन। रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर नौ से गुरुवार को भारत दर्शन यात्रा ट्रेन अगले पड़ाव के लिए रवाना हो गई। शयनयान श्रेणी की 12 बोगियों से सजी स्पेशल ट्रेन शाम को ठीक 6.50 बजे 125 यात्रियों और एक सुपरवाइजर को लेकर रवाना हुई। यात्रियों का उत्साह देखते ही बन रहा था। देवरिया, मऊ और लखनऊ आदि स्टेशनों पर अन्य यात्री बैठेंगे।

यहां से भी ट्रेन में सवार होंगे यात्री

इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कार्पोरेशन (आइआरसीटीसी) ने 22 अक्टूबर तक 12 रात और 13 दिन का टूर पैकेज तैयार किया है। ट्रेन में गोरखपुर व देवरिया के अलावा मऊ, प्रतापगढ़, अमेठी, रायबरेली, लखनऊ, कानपुर, इटावा, टूंडला और आगरा फोर्ट में बैठने की सुविधा है।

इन स्‍थानों की सैर कराएगी ट्रेन

यात्री राजस्थान के महत्वपूर्ण दर्शनीय स्थल नाथद्वार, हल्दीघाटी, उदयपुर में सिटी पैलेस व पिछोला लेक, अजमेर व पुष्कर, जयपुर के अलावा हरिद्वार में हरी की पौड़ी, ऋषिकेश में लक्ष्मण झूला, अमृतसर में स्वर्ण मंदिर व जालियावाला बाग तथा जम्मू में मातारानी वैष्णव दरबार का दर्शन कर सकेंगे।

यात्रियों को मिलेगा नाश्‍ता और भोजन

यात्रियों को रास्ते में शाकाहारी नाश्ता और भोजन मिलेगा। स्थानीय यात्राएं बसों से कराई जाएगी। ठहरने के लिए धर्मशालाओं की व्यवस्था रहेगी। गोरखपुर से यह दूसरी भारत दर्शन यात्रा ट्रेन रवाना हुई है। आइआरसीटीसी का कहना है कि वह गोरखपुर से ही भारत दर्शन यात्रा ट्रेनों का संचालित करेगा। 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021