गोरखपुर, जेएनएन। ​​​​​Gorakhpurweatherforecast बीते पांच दिन तक तेज हवा के बीच गरज-चमक के साथ चल रहा बारिश का सिलसिला गुरुवार को थम गया। वायुमंडलीय परिस्थितियां बदलीं तो बादलों ने किनारा कस लिया और धूप को अपने रौ में आने का अवसर मिल गया। जैसे-जैसे धूप का तेवर चढ़ेगा, उसम भरी गर्मी का सिलसिला बढ़ेगा, ऐसा मौसम विशेषज्ञ का पूर्वानुमान है। 

एक सप्‍ताह तक नहीं होगी बारिश

हालांकि बारिश के चलते जमीन से लेकर हवा में मौजूद नमी ने फिलहाल तापमान को बढ़ने से रोके रखा है लेकिन अगले कुछ दिनों तक इसी नमी को साथ लेकर ही धूप उमस भरी गर्मी को बढ़ाने में कामयाब होगी। मौसम विशेषज्ञ के अनुसार बारिश के लिए बनी वायुमंडलीय परिस्थियां अब अपने ढलान पर हैं। पश्चिमी विक्षोभ बिहार के आगे बढ़ चुका है। राजस्थान से लेकर असम तक बनी निम्न वायुदाब की पट्टी अब बेहद कमजोर हो चुकी है। ऐसे में शुक्रवार को अव्वल तो बारिश होगी नहीं अगर कुछ स्थानों पर हुई भी तो बूंदाबांदी से आगे नहीं बढ़ सकेगी। बारिश के ठहराव का यह सिलसिला अगले एक सप्ताह तक जारी रह सकता है। 

21-22 को बन रही अगली बारिश की संभावना

मौसम विशेषज्ञ ने बताया कि अब अगली बारिश की संभावना 21-22 मई को बन रही है। क्योंकि जम्मू के ऊपर एक और पश्चिमी विक्षोभ बनने की भूमिका तैयार हो गई है। 18 मई के बाद वह सक्रिय होेने लगेगा। एक बार फिर जब वह तिब्बत की ओर बढ़ेगा तो पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर से गुजरने के दौरान गोरखपुर और आसपास के क्षेत्रों में बारिश की वजह बनेगा।  

राहत देने वाले हैं तापमान के आंकड़े

मौसम विभाग के पैमाने पर गुरुवार को बीते दिनों हुई बारिश के चलते अधिकतम तापमान 31 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से आगे नहीं बढ़ सका। शुक्रवार की सुबह का तापमान भी 21 डिग्री सेल्सियस के करीब रहा। वातावरण में नमी अधिक होने से अधिकतम आर्द्रता 98 प्रतिशत तक पहुंच गई है मगर यदि एक-दो दिन बारिश नहीं हुई तो इसके 70 के आसपास आ जाने के आसार हैं। मौसम विशेषज्ञ के अनुसार शुक्रवार का अधिकतम तापमान 32 डिग्री के इर्दगिर्द रहने का पूर्वानुमान है।