गोरखपुर, जागरण संवाददाता। नगर निगम में शामिल हुए 32 नए गांवों में विकास कार्यों के लिए गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) द्वारा शासन को भेजे गए आगणन (एस्टीमेट) को मंजूरी मिल गई है। इन गांवों में अब जल्द ही सड़क व नाली निर्माण का काम शुरू हो जाएगा। करीब 140 किलोमीटर लंबाई की सड़क व नाली की 250 परियोजनाओं पर करीब 106 करोड़ रुपये खर्च होने हैं। शासन की ओर से 10 प्रतिशत धनराशि जारी भी कर दी गई है।

नगर निगम में शामिल 32 नए गांवों के विकास के लिए जीडीए ने शासन को भेजा था आगणन

पंचायती राज विभाग से अलग कर शहर क्षेत्र से सटे 32 गांवों को नगर निगम की सीमा में शामिल किया गया था। नगर निगम की सीमा में शामिल होने के बाद इन गांवों में पंचायती राज विभाग की ओर से कोई काम नहीं कराया जा रहा था। इस बार यहां पंचायत चुनाव भी नहीं हुए थे। नगर निगम ने यहां के विकास के लिए प्रस्ताव किया था। 193 करोड़ रुपये के प्रस्ताव में करीब 500 परियोजनाओं को शामिल किया गया था। इसमें से 439 कार्यों को अंतिम रूप से सूची में जगह मिली। शासन के निर्देश के बाद विकास कार्य कराने का जिम्मा जीडीए को दिया गया।

250 कार्य कराएगा जीडीए

जीडीए की ओर से शुरू में 250 कार्य कराए जाएंगे। त्वरित आर्थिक विकास योजना के अंतर्गत प्रस्तावित इन कार्यों के लिए जीडीए द्वारा नए सिरे से आगणन तैयार कर शासन को भेजा था, जिसे मंजूरी मिल गई है। इसमें 1.42 लाख रुपये से लेकर एक करोड़ 87 लाख रुपये तक की परियोजनाएं शामिल हैं। शासन से बजट मंजूर होने के बाद जीडीए की टीम सभी कार्यों की टेंडर प्रक्रिया को पूरा करने में जुट गई है। प्राधिकरण के अधिशासी अभियंता मुकेश अग्रवाल ने बताया कि आगणन को मंजूरी मिल गई है। जल्द ही काम शुरू करा दिए जाएंगे।

त्वरित विकास योजना के अंतर्गत नगर निगम में शामिल 32 गांवों में विकास कार्यों के लिए भेजे गए आगणन को मंजूरी मिल गई है। जल्द ही विकास कार्य शुरू किए जाएंगे। - प्रेम रंजन सिंह, उपाध्यक्ष, जीडीए।

Edited By: Pradeep Srivastava