गोरखपुर, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव  का जन्मदिन उत्साहपूर्वक सिद्धार्थनगर में पांडवकालीन पल्टादेवी मंदिर में मनाया गया। कार्यक्रम के आयोजक यश भारती सम्मानित मणेन्द्र मिश्रा मशाल ने मंदिर के महंत और पुजारियों सर्वश्री घनश्याम गिरी, दीनानाथ गिरी, राजेन्द्र गिरी, चंदन गिरी, कैलाश गिरी को अंगवस्त्र, कंबल, छाता और पुस्तकें प्रदान कर सम्मानित किया। इसके अतिरिक्त मंदिर परिसर से जुड़े सहयोगियों को अंगवस्त्र भेंट किया गया।

दीर्घायु जीवन के लिए की प्रार्थना

इसके उपरांत समाजवादी अध्ययन केंद्र के संस्थापक मणेंद्र मिश्रा ने पूर्व मुख्यमंत्री के प्रभावशाली एवं दीर्घायु जीवन के लिए विधिवत हवन पूजन और परिक्रमा कर प्रार्थना किया। इस अवसर पर मंदिर के महंत से सपाइयों ने आशीर्वाद और प्रसाद प्राप्त किया।

विश्‍वविद्यालय का स्‍थापना अखिलेश ने ही किया

 मिश्रा ने कहा कि अखिलेश यादव समाज के सभी वर्गों के सच्चे हमदर्द हैं। पिछली सरकार में उनके विकासवादी और दूरदर्शी सोच से उत्तर प्रदेश में सकारात्मक बदलाव आना शुरू हुआ था। सिद्धार्थ विश्वविद्यालय की स्थापना कर उन्होंने बुद्धभूमि की ज्ञान परंपरा को फिर से प्रवाहमान बनाने रखने का ऐतिहासिक कार्य किया। आयोजन में वरिष्ठ नेता सर्वश्री मुरलीधर मिश्रा,राकेश दूबे,रामअवतार यादव,अमित यादव, अजय चौरसिया, रामप्रीत गुप्ता, रजनीश वर्मा, शादाब आलम सहित अन्य प्रमुख लोग उपस्थित रहे।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021