गोरखपुर, जेएनएन। गगहा क्षेत्र के कलानी गांव में चोरी करते समय तमंचे के साथ पकड़ा गया बदमाश 26 जनवरी को सुबह हथकड़ी सहित थाने से फरार हो गया। इसके लिए थाने के मुंशी वीरेंद्र को जिम्मेदार मानते हुए एसएसपी डा. सुनील गुप्त ने लाइन कर दिया है।

झगहा क्षेत्र के बौठा निवासी हरिओम कश्यप 25 जनवरी को बलुआ गांव में बरात में आया था। रात में ही बरात से लौटते समय कलानी गांव में चोरी की नीयत से वह अंबुज मिश्र के घर में घुस गया। नींद खुलने पर परिजनों ने ग्रामीणों की मदद से उसे पकड़कर पुलिस को सौंप दिया।

रात में ही पीआरवी (पुलिस रिस्पांस व्हीकल) ने उसे गगहा थाने पहुंचा दिया। थाने में हथकड़ी लगाकर उसे रखा गया था। 26 जनवरी को सुबह पांच बजे हथकड़ी सहित वह थाने से भाग निकला। कुछ देर बाद इसका पता चलने पर पुलिस वालों के हाथ-पांव फूल गए। पहले तो मामले को गोपनीय रखकर पुलिस वाले उसे तलाश करते रहे। पता न चलने पर उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दी। उसकी गिरफ्तारी के लिए एसएसपी के निर्देश पर अलग से टीम गठित की गई है। आश्चर्यजनक बात यह है कि पुलिस को भी पता नहीं वह थाने से कैसे फरार हो गया। पुलिस इस बारे में कुछ ठीक-ठीक जानकारी नहीं दे पा रही है। झगहा क्षेत्र के बौठा निवासी हरिओम कश्यप शातिर बदमाश है। वह चोरी के कई मामलों में वांछित है। मजेदार बात यह है कि पुलिस को जिसकी तलाश थी, उसे ग्रामीणों ने पकड़ा और फिर वह थाने से रहस्यमय तरीके से भाग निकला। उसके हाथ में हथकड़ी भी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप