गोरखपुर, जागरण संवाददाता। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने सोमवार सुबह नौ बजे महेवा स्थित नगर निगम के स्टोर में छापा मारा। यहां स्टोर की देखभाल के लिए तैनात चालक रिजवान गायब मिला। कई अन्य कर्मचारी भी अनुपस्थित मिले। नगर आयुक्त ने कई वाहनों के स्टोर से न निकलने पर भी आपत्ति जताई।

रजिस्टर न मिलने पर जताई नाराजगी, कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

महेवा स्टोर में काफी दिनों में गड़बड़ी की शिकायत मिल रही थी। नगर आयुक्त पहुंचे तो कर्मचारियों के न मिलने पर नाराज हो गए। एक चालक ने बताया कि वाहन स्टार्ट नहीं हो रहा है इसलिए वह इसे लेकर नहीं निकल पाया है। इस पर नगर आयुक्त ने अपने सामने वाहन को स्टार्ट कराया और चालक को कड़ी चेतावनी दी। नगर आयुक्त ने कहा कि वाहन समय से स्टोर से निकल जाने चाहिए लेकिन महेवा स्टोर में कई वाहन खड़े मिले। रजिस्टर में चालकों के साथ ही वाहनों के आने-जाने का समय दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।

वाहन के नीचे गंदगी देख लगाई फटकार

नगर आयुक्त ने मैजिक वाहन के नीचे गंदगी दिखने पर चालक इस्लाम से पूछताछ की तो वह साफ-साफ जवाब नहीं दे सका। नगर आयुक्त ने कहा कि यह वाहन रोजी-रोटी से जुड़ा है, इसकी सफाई बहुत जरूरी है। उन्होंने भविष्य में वाहन साफ न मिलने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी।

अच्‍छा काम करने वाले कर्मचारियों को किया जाएगा पुरस्कृत

गोरखपुर: महापौर सीताराम जायसवाल ने अच्‍छा काम करने वाले नगर निगम के कर्मचारियों को 15 अगस्त को पुरस्कृत करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी विभागों से जुड़े अ'छा कार्य करने वाले कर्मचारियों की सूची बनाने को कहा है। नगर आयुक्त ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में कर्मचारियों ने काफी मेहनत की। इसी का नतीजा है कि कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण लगाया जा सका।

प्रशासनिक अधिकारी विनय दुबे को दी गई विदाई

मंडलायुक्त कार्यालय में प्रशासनिक अधिकारी रहे विनय कुमार दुबे 31 जुलाई को सेवानिवृत्त हो गए। उनकी सेवानिवृत्ति पर मंडलायुक्त कार्यालय के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने उन्हें भावभीनी विदाई दी। अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने उनकी कार्यशैली की प्रशंसा करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। विनय ने 1990 में कनिष्ठ सहायक के रूप में नौकरी शुरू की थी। कार्यक्रम का संचालन गोपनीय सहायक अरङ्क्षवद श्रीवास्तव ने किया। इस दौरान अपर आयुक्त प्रशासन अजयकांत सैनी, रतिभान वर्मा, हरिओम शर्मा आदि उपस्थित रहे।

Edited By: Pradeep Srivastava