गोरखपुर, दिलीप पाण्डेय। पूर्वांचल विकास निधि से जिले को काफी उम्मीदें थी। इस पिछड़े जिले के विधायक विकास का ताना-बाना बुन चुके थे। अधिक विकास कार्य होने की आस थी। शासन स्तर से विधानसभा क्षेत्र की संख्या को देखते हुए धन का आवंटन किया जाना था। पहली बार इसे नजरअंदाज करते हुए जिलों को इस मद से धन आवंटन कर दिया गया। एक समान विधानसभा क्षेत्र वाले जिलों में से किसी को अधिक तो किसी को कम राशि दे-दी गई है। इसको लेकर विधायकों में नाराजगी है लेकिन वे अपना मुंह नहीं खोलना चाहते हैं।

संतकबीरनगर व श्रावस्‍ती जिले को मिली है अधिक धनराशि

नौ ब्लाक वाले संतकबीर नगर जैसे पिछड़े जिले को अधिक बजट की जरूरत थी ताकि अधिक विकास कार्य हो सकें। पूर्वांचल विकास निधि से जिले को अनुसूचित बाहुल्य क्षेत्रों में विकास के लिए 20.53 लाख व सामान्य क्षेत्रों में विकास के लिए 41.05 लाख कुल 61.58 लाख रुपये आवंटित हुए हैं। जबकि संतकबीर नगर से कम क्षेत्रफल वाले यानी चार ब्लाक वाले श्रावस्ती जिले को अनुसूचित बाहुल्य क्षेत्रों में विकास के लिए 93.15 लाख व सामान्य क्षेत्रों में विकास के लिए 186.29 लाख कुल 279.44 लाख रुपये मिले हैं।

सिद्धार्थनगर जिले को मिले सिर्फ 90.66 लाख

इसी प्रकार सिद्धार्थनगर व बस्ती जिले में एक समान यानी पांच-पांच विधानसभा क्षेत्र है। इसके बाद भी बस्ती को 384.07 लाख रुपये जबकि सिद्धार्थनगर जिले को सिर्फ 90.66 लाख रुपये मिले हैं। ऐसा पहली बार हुआ कि एक समान विधानसभा क्षेत्र वाले जिलों में से किसी को काफी अधिक तो किसी को काफी कम राशि विकास कार्य के लिए दी गई है। इसको लेकर विधायकों में नाराजगी है। इनके द्वारा बुने गए विकास के ताने-बाने को झटका लगा है। ये अगले साल होने वाले विधानसभा में टिकट की दावेदारी के चलते इस पर खुलकर बोलना नहीं चाह रहे हैं।

पूर्वांचल विकास निधि से सात जिलों को मिली इतनी धनराशि

जनपद : विधानसभा: अनुसूचित में: सामान्य में: कुल राशि(लाख)

संतकबीर नगर : 03 : 20.53 : 41.05 : 61.58

सिद्धार्थनगर : 05 : 30.22 : 60.44 : 90.66

बस्ती : 05 : 128.02 : 256.05 : 384.07

गोरखपुर : 09 : 182.37 : 364.74 : 547.11

देवरिया : 07 : 64.37 : 128.74 : 193.11

महराजगंज : 05 : 117.14 : 234.28 : 351.42

कुशीनगर : 07 : 147.79 : 295.57 : 443.36

Edited By: Navneet Prakash Tripathi