गोरखपुर, जागरण संवाददाता। शनिवार की सुबह से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला रविवार दोपहर तक जारी रहा। शन‍िवार से ही आसमान में काले बादल छाए हुए हैं। शनिवार से रात से रविवार की सुबह तक गरज-चमक के बीच अनवरत बारिश हो रही है। मौसम विभाग के पैमाने पर बीते 24 घंटे के दौरान 72 मिलीमीटर बारिश रिकार्ड की जा चुकी है। लगातार हुई तेज वर्षा के चलते पूरे शहर के जलमग्न होने से आवागमन प्रभावित हो गया है। गोरखपुर और आसपास के क्षेत्र का तापमान भी काफी नीचे आ गया है। मौसम विज्ञानी कैलाश पांडेय के अनुसार बारिश का यह सिलसिला रुक-रुक कर अभी दो दिन तक चलता रहेगा। कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम तो कुछ पर मध्यम से भारी बारिश का पूर्वानुमान है।

दो द‍िन तक होगी बार‍िश

मौसम विज्ञानी ने बताया कि वर्तमान में और अगले दो तक होने वाली बारिश की वायुमंडलीय परिस्थितियां बनी हुई हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश के उत्तरी हिस्से यानी नेपाल की तराई के निचले वायुमंडल में एक हवा के कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। इसके अलावा निम्न वायुदाब की एक पट्टी राजस्थान से निकलकर दक्षिण उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल होते हुए बंगाल की खाड़ी तक जा रही है। इसके चलते पूर्वी उत्तर प्रदेश के अधिकांश हिस्से में हल्की से लेकर भारी बारिश हो रही है और आगे भी होने की संभावना बनी हुई है। यह सिलसिला 20 जुलाई तक जारी रहने के आसार हैं। बारिश ने गोरखपुर के तापमान को काफी गिरा दिया है।

नीचे आया तापमान

अधिकतम तापमान बीते दिन के मुकाबले आठ डिग्री सेल्सियस नीचे आ गया है। शनिवार का अधिकतम तापमान 26.4 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जबकि शुक्रवार को वह 34.2 डिग्री सेल्सियस था। न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट दर्ज की गई है। यह 28 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 25 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आ गया है। मौसम विज्ञानी के अनुसार अधिकतम तापमान के दो डिग्री और नीचे आने की संभावना है। मौसम विशेषज्ञ अधिकतम तापमान के 25 डिग्री सेल्सियस से भी नीचे आ जाने की उम्मीद जता रहे हैं।

शहर के कई हिस्‍सों में पानी लगा

भारी बार‍िश से शहर के कई हि स्‍सों में पानी लग गया। धर्मशाला पुल के नीचे, तारामंडल क्षेत्र, तिवारीपुर, रसूलपुर, पुराना गोरखपुर आद‍ि क्षेत्रों में भारी पानी लग गया। भारी जलजमाव के कारण कई सड़कों पर आवागमन बंद हो गया है।

Edited By: Pradeep Srivastava