कुशीनगर : तुर्कपट्टी क्षेत्र के गांव बरवा राजापाकड़ व सपही टड़वा की सीमा में 34 माह में पांच किमी के दायरे में घटित दुर्घटनाओं में 22 लोगों की मौत हो गई। ग्रामीण घटनाओं का कारण तेज रफ्तार, चालकों की लापरवाही तथा संकेतकों व स्पीड ब्रेकरों का न होना मानते हैं।

मार्ग के किमी 22 से 27 के बीच धर्मपुर नहर चौराहा, सीताराम चौराहा व मिलन चौराहा ब्लैक स्पाट माने जा रहे हैं। यहां कई लोगों की जान जा चुकी है। सिर्फ बंगरा चौराहा पर रंबलिग स्ट्रीप है। स्थानीय निवासी रजनीश राय, मुन्नीलाल गोंड, संजय पासवान, मनोज गुप्ता, अनिल गुप्ता, राजू जायसवाल आदि ने बताया कि काफी समय से दुर्घटना बहुल जगहों पर स्पीड ब्रेकर बनवाने की मांग की जा रही है, लेकिन जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। पीडब्ल्यूडी के अवर अभियंता जितेंद्र यादव ने कहा कि स्पीड ब्रेकर बनवाने का प्रस्ताव विभाग में विचाराधीन है। प्रस्ताव पास होने के बाद धन अवमुक्त होते ही चिन्हित स्थानों पर स्पीड ब्रेकर बनवा दिए जाएंगे।

इनकी हो चुकी है मौत

बीते 12 अक्टूबर को बरवा राजापाकड़ निवासी बलराम गोंड, 25 अगस्त को तरयासुजान थानाक्षेत्र के सिसवा अव्वल गांव निवासी अजीमुल्लाह, 26 नवंबर 2020 को दुमही गांव निवासी दिवाकर मणि त्रिपाठी, तीन नवंबर 2020 को बरवा राजापाकड़ के मटिहरवा टोला निवासी रमापति गोंड, 31 अक्टूबर 2020 को विशुनपुरा थानाक्षेत्र के ठाड़ीभार निवासी अनिल यादव, 20 सितंबर 2020 को थाना गौरीबाजार के बैतालपुर निवासी कुक्कुर, छह मार्च 2020 को दुमही निवासी मोहन शर्मा व राजू प्रसाद, 28 दिसंबर 2019 को बरवा राजापाकड़ के जमुआन टोला निवासी मुसहर महिला तेतरी, 16 फरवरी 2020 को विशुनपुरा थानाक्षेत्र के ठाड़ीभार निवासी संतोष पटेल, 23 दिसंबर 2019 को बरवा राजापाकड़ गांव निवासी केदार, 14 दिसंबर 2019 को पगरा पड़री निवासी असगर, 9 दिसंबर 2019 को किशुनदेव पट्टी निवासी महिला किशुनदेई, 17 अगस्त 2019 को जमुआन टोला निवासी रमई यादव, 13 जून 2019 को गोबरही टोला निवासी स्वामीनाथ यादव, 12 मार्च 2019 को कुबेरस्थान थानाक्षेत्र के शिवपुर डीह निवासी सुनील, 7 मार्च 2019 को बरवा राजापाकड़ निवासी दंपती रामधनी व रीता, 16 जनवरी 2019 को छांगुर टोला निवासी ताहिर, 14 जनवरी 2019 को बंगरा निवासी शौकत व छह जनवरी 2019 को बरवा टोला निवासी राजू ठाकुर की मौत हो गई थी।

Edited By: Jagran