गोरखपुर :

पूर्वाचल चीनी मिल मजदूर यूनियन की बैठक सोमवार को अलीनगर स्थित यूनियन कार्यालय पर हुई।

इसमें 1996 से बंद पड़ी गौरी बाजार मिल, उस पर गन्ना किसानों एवं श्रमिकों के करोड़ों रुपये के बकाए और इस बाबत सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मुकदमें पर चर्चा हुई।

यूनियन के अध्यक्ष लल्लन राय और महामंत्री प्रकाशचंद श्रीवास्तव ने कहा कि मामले की सुनवाई 17 फरवरी को होनी है, बावजूद इसके प्रशासन के संरक्षण में मिल मालिक स्क्रैप बेच रहे हैं। इसे न रोके जाने पर आंदोलन की चेतावनी दी गई। बैठक में महावीर शुक्ला, सत्यनारायण त्रिपाठी, रामतीरथ अग्रहरि, राममूर्ति और ईश्वरशरण आदि मौजूद थे।