गोरखपुर : पूर्वोत्तर रेलवे के यात्रियों को भी अब झटके नहीं लगेंगे। उनका भी सफर अब आरामदायक होगा। इसके लिए रेलवे प्रशासन ने शुरुआत कर दी है। प्रथम चरण में 15015/15016 गोरखपुर-यशवंतपुर-गोरखपुर एक्सप्रेस में एलएचबी कोच लगाए जाएंगे। फिलहाल, यह कोच प्रयोग के आधार पर लगाए जा रहे हैं। एलएचबी की पूरी खेप मिलने के बाद जल्द ही महत्वपूर्ण गोरखधाम सुपरफास्ट एक्सप्रेस के यात्रियों को यह सुविधा मिलने लगेगी।

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी संजय यादव के अनुसार सामान्य कोच की जगह एलएचबी (लिंक हाफमैन बुश) कोच लगाए जाने हैं। 15015 गोरखपुर-यशवंतपुर में 4 जुलाई से 5 सितंबर तक तथा 15016 यशवंतपुर-गोरखपुर एक्सप्रेस में 7 जुलाई से 8 सितंबर तक अति आधुनिक कोच लगाए जाएंगे। एलएचबी रेक की इस गाड़ी में शयनयान श्रेणी के 10, एसी थर्ड टियर के 7, टू टियर के 3 सहित कुल 22 कोच लगाए जाएंगे। पूर्वोत्तर रेलवे की शिव गंगा एक्सप्रेस के रेक में भी यह कोच लगे हैं। आधुनिक होते हैं। जर्क नहीं लगता, लंबाई भी अधिक होती है। स्लीपर और एसी थर्ड में 72 की जगह 80 बर्थ हो जाते हैं। यात्रा के दौरान लोगों को पूरा आराम मिलता है।

---

गोरखपुर से चंडीगढ़

जाएगी स्पेशल ट्रेन

गोरखपुर : गर्मी में यात्रियों की परेशानी और मांग को देखते हुए रेल प्रशासन ने गोरखपुर से चंड़ीगढ़ के बीच चल रही 04923/04924 गोरखपुर-चंडीगढ़-गोरखपुर स्पेशल ट्रेन का संचलन 8 फेरा में और बढ़ा दिया है। 04923 स्पेशल ट्रेन 8 जुलाई से 26 अगस्त के बीच प्रत्येक शुक्रवार को रात 10.10 बजे से चलाई जाएगी।

वहीं, 04924 स्पेशल ट्रेन 7 जुलाई से 25 अगस्त तक प्रत्येक गुरुवार को रात 11.15 बजे से चलाई जाएगी। इसके अलावा लखनऊ से भोपाल और मुंबई सेंट्रल के लिए भी स्पेशल गाड़ियां चलाई जाएंगी।

---

कृषक में अतिरिक्त कोच

- 15007 वाराणसी सिटी-लखनऊ जंक्शन कृषक एक्सप्रेस में 1 जुलाई को वाराणसी सिटी से शयनयान श्रेणी का एक अतिरिक्त कोच लगाया जाएगा।