गोरखपुर, जेएनएन। कुशीनगर जिले के पडऱौना-कुबेरस्थान तुर्कपट्टी मार्ग पर स्थित गांगरानी चौराहे के निकट सोमवार की भोर में पिकअप वाहन ने सड़क पर चल रहे भेड़ों को रौंदते और  भेड़ पालक को घायल करते हुए भाग निकला। मौके पर ही 125 भेड़ों की मौत हो गई और 40 घायल हो गए। गंभीर रूप से घायल भेड़पालक की मेडिकल कालेज ले जाते समय मौत गई।

हार्न बजाते रफ्तार में भेड़ों पर चढ़ाते पिकअप लेकर भागा चालक

जानकारी के मुताबिक पडरौना कोतवाली क्षेत्र के त्रिलोकपुर खुर्द गांव निवासी 48 वर्षीय राजकुमार पाल के पास 165 भेड़ थे। वह परिवार के अन्‍य सदस्‍यों के साथ भेड़ों को घर ला रहे थे। सभी भेड़ सड़क से जा रहे थे। भोर में अचानक विपरीत दिशा से तेजी के साथ एक पिकअप आई। चालक हार्न बजाते हुए उसी रफ्तार में पिकअप को भेड़ों पर चढ़ाते हुए निकल गया।

भेड़ों को हांकते समय राजकुमार के ऊपर चढ़ाई पिकअप

हालांकि उस दौरान राजकुमार पाल भेड़ों को हांककर किनारे कर रहा था, पर चालक ने पिकअप की रफ्तार कम नहीं की। स्थिति यह हुई कि राजकुमार पाल के ऊपर चालक ने पिकअप चढ़ा दी। बावजूद इसके पिकअप चालक पर कोई फर्क नहीं पड़ा। भेड़ों में भगदड़ मच गई। इससे भेड़ पालकों में अफरा-तफरी मच गई। इनकी चीख-पुकार सुन ग्रामीणों की भीड़ जुट गई।

मेडिकल कालेज ले जाते समय हुई राजकुमार की मौत

उसके बाद किसी ने पीआरबी को इसकी सूचना दी। मौके पर पहुंची पीआरबी पुलिस राजकुमार पाल को सीएचसी कुबेरस्थान ले गई, जहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हालत बिगड़ती देख डाक्‍टरों ने राजकुमार पाल को मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया। मेडिकल कॉलेज ले जाने के दौरान ही रास्ते में उसकी मौत हो गई। थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने उप-पशुचिकित्साधिकारी डा.एचएन सिंह को इसकी सूचना दी। इसके बाद आई पशुचिकित्सको की टीम ने घायल भेड़ों का इलाज किया। हल्का लेखपाल विक्रांत मिश्र ने क्षतिपूर्ति का आकलन कर तहसील को रिपोर्ट भेज दी। मृतक के भाई सुभाष पाल की तहरीर पर पुलिस  ने मुकदमा दर्ज किया।   

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस