गोंडा, जागरण संवाददाता। दोस्त के साथ टेढ़ी नदी में नहाने गया किशोर डूब गया। करीब तीन घंटे के बाद गोताखोरों ने नदी से किशोर का शव बरामद किया। तहसीलदार तरबगंज ने घटना स्थल का निरीक्षण कर ग्रामीणों से जानकारी ली। घटना से परिवार के लोगों का रो रोकर बुरा हाल है। 

भोपतपुर डीहा के हरिनरायन कसौधन गांव में ही किराना की दुकान चलाने के साथ ही डेयरी का व्यवसाय करते हैं। उन्होंने बताया कि रविवार को दोपहर करीब दो बजे उनका बेटा प्रतीक गांव के ही दोस्त आदित्य मिश्र के साथ टेढ़ी नदी में नहाने के लिए गया था। नहाते समय प्रतीक नदी में पड़ी नाव में चढ़ने लगा और गहरे पानी में डूब गया।

आदित्य ने घर आकर घटना की जानकारी दी। प्रधान पप्पू यादव ने पुलिस को सूचना देने के साथ ही स्थानीय लोगों की मदद से किशोर की खोजबीन शुरू कराई। थोड़ी देर बाद नवाबगंज प्रभारी निरीक्षक अरुण कुमार द्विवेदी, उपनिरीक्षक पवन कुमार गिरी भी पहुंच गए। काफी देर तक पानी में खोजबीन करने के बाद जब किशोर का पता नहीं चला तो स्थानीय गोताखोर बुलाए गए।

शाम करीब पांच बजे गोताखोरों ने घटना स्थल से 80 मीटर दूर किशोर का शव बरामद किया। स्थानीय लोगों के अनुसार, किशोर जंगली घास में फंस गया था। तहसीलदार तरबगंज डा. पुष्कर मिश्र ने घटना स्थल का निरीक्षण कर ग्रामीणों से जानकारी ली। उन्होंने पीड़ित परिवार को हर संभव मदद देने का भरोसा दिलाया है।

बुझ गया घर का चिराग : किशोर की मौत से स्वजन रो-रोकर बेहाल हैं। पिता ने कहा कि पांच संतानों में प्रतीक इकलौता बेटा था। वह स्वामी विवेकानंद स्कूल दुर्जनपुरघाट में कक्षा एक का छात्र भी था। बेटे की मौत से घर का चिराग का बुझ गया। मां अपने बेटे को खोने के गम में बेहोश हो गई। बहन प्रीती अपने भाई के शव से लिपटकर रो रही थी। लोग पीड़ित परिवार को ढांढस बंधाने की कोशिश कर रहे थे।

Edited By: Vrinda Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट